- बिजली विभाग के काउंटर पर फुटकर के बदले थमा रहे जाली नोट

- बैंक में भी जालसाज सक्रिय, मदद मांगकर लगा रहे चूना

GORAKHPUR: लोगों की मदद करना अच्छी बात है लेकिन कई बार इस मदद के चक्कर में लोगों को चूना लग जाता है. बिजली विभाग से लेकर एसबीआई तक इस समय ऐसे ही जालसाज सक्रिय हैं जो आपको फुटकर के बदले जाली बड़े नोट थमा सकते हैं. इसलिए इस तरह की मदद के पहले जरा सावधान हो जाएं. एक सप्ताह के अंदर ही ऐसे कई मामले सामने आ चुके हैं.

केस नंबर 1

शनिवार को बक्शीपुर बिलिंग सेंटर के काउंटर नंबर एक पर लगी लाइन में तीसरे नंबर पर खड़ा व्यक्ति 500 रुपए का नोट लेकर खड़ा था. उसी समय बगल के काउंटर की लाइन में सातवें नंबर पर एक व्यक्ति 100 रुपए के नोट के साथ खड़ा था. 500 रुपए लेकर खड़े व्यक्ति ने उससे चेंज की मदद मांगी और कहा कि हमें दे दीजिए. यहां तो आपके 500 के नोट भी जमा हो जाएंगे. उस व्यक्ति ने चेंज देकर 500 रुपए के नोट ले लिए. जब वह काउंटर पर पहुंचा तो पता चला कि 500 के नोट जाली हैं. उसने खूब हंगामा किया लेकिन तब तक चेंज रुपए लेकर जाली नोट थमाने वाला शख्स गायब हो चुका था.

केस नंबर 2

एक कर्मचारी एक दिन बकाएदारों का कनेक्शन काटने गया. जहां पर 10 से अधिक कंज्यूमर्स ने उनको मौके पर ही अपना बकाया दे दिया जिससे कर्मचारी ने कनेक्शन नहीं काटा. जान-पहचान होने के कारण कर्मचारी पैसा लेकर चला गया. रात में काउंटर खाली होने पर वह लगभग सवा दो लाख रुपए जमा करने गया तो पता चला कि पूरे पैसे में हजार-हजार के तीन नोट नकली हैं.

केस नंबर 3

दो दिन पहले एसबीआई के मेन ब्रांच में एक व्यक्ति 100 रुपए के नोट लेकर जमा करने पहुंचा था. जिस पर एक अन्य व्यक्ति ने उससे फुटकर मांग लिया और उसने अपने पास हजार के दो नोट उनको दे दिए. फुटकर देने वाले व्यक्ति ने जब मौके पर ही एक हजार के नोट की जांच की तो उसमें एक नकली निकल गया. हालांकि उन्होंने थोड़ी आपत्ति जताते हुए जाली नोट वापस कर दिया और एक हजार के एक नोट के छुट्टे दे दिए.

रोज आ रहे 100 जाली नोट

बिजली विभाग के बिलिंग सेंटर के कर्मचारियों का कहना है कि डेली प्रत्येक काउंटर पर चार से पांच नकली नोट आ ही जाते हैं. इस तरह से देखें तो डेली 100 के लगभग नकली नोट काउंटर पर पहुंच रहे हैं. पहचान के बाद उन्हें वापस कर दिया जा रहा है.

वर्जन

काउंटर पर जाली नोट आने की सूचना है. प्रत्येक काउंटर पर सभी कर्मचारियों को आदेश दे दिया गया है कि वह नोट लेते समय सावधानी बरतें और असली और नकली की जांच जरूर कर लें.

- एके सिंह, एसई, महानगर विद्युत वितरण निगम