- घर में लहूलुहान हालत में चारपाई पर पड़े मिले

- घर में रखे कुछ रुपये और चांदी के गहने गायब

आगरा : सिकंदरा क्षेत्र में शुक्रवार शाम फल विक्रेता की गला रेतकर हत्या कर दी गई। हत्यारे बस्ती के बीच से बेखौफ निकल गए। पत्‍‌नी और बेटी के घर पहुंचने पर घटना की जानकारी हुई। उन्होंने एक रिश्तेदार के खिलाफ हत्या की तहरीर दी है। घर से कुछ रुपये और गहने भी गायब बताए जा रहा हैं। हत्या की वजह अभी स्पष्ट नहीं हो सकी है।

सिकंदरा के सराय बेगा निवासी 50 वर्षीय राम सिंह उर्फ सिंधी आरटीओ कार्यालय के बाहर फल की ठेल लगाते थे। तीन माह से तबियत खराब होने के कारण वे काम पर नहीं जा रहे थे। शुक्रवार को वे घर पर थे। पत्‍‌नी रामबेटी और बेटी हेमलता नर्सरी में काम करने गई थीं। दोपहर एक बजे वे खाना खाने घर आई और दो बजे फिर लौट गई। तब वे घर में सो रहे थे। शाम पांच बजे वे काम खत्म करके घर पहुंचीं तो राम सिंह कमरे में चारपाई पर लहूलुहान पड़े थे। अंतिम सांसें चल रही थीं। पत्‍‌नी और बेटी की चीख सुनकर आसपास के लोग पहुंच गए और पुलिस बुला ली। पुलिस और स्थानीय लोग उन्हें हाईवे स्थित निजी अस्पताल ले गए। वहां से उन्हें एसएन इमरजेंसी रेफर कर दिया। वहां पहुंचने से पहले ही उनकी सांसें थम गई। घर में रखे बॉक्स का ताला टूटा मिला है। कमरे में कुछ आयुर्वेदिक दवाओं से संबंधित फाइल रखी मिली है। हत्या की वजह अभी स्पष्ट नहीं हो सकी है। इंस्पेक्टर सिकंदरा अनुज कुमार का कहना है कि परिजनों की तहरीर के मुताबिक हत्या का नामजद मुकदमा दर्ज किया जा रहा है। हत्या की वजह जानने का प्रयास किया जा रहा है।

--------