आगरा. थाना एमएम गेट के नूरी दरवाजा में कार्रवाई करने पहुंची एफएसडीए की टीम पर हमला हो गया. इस दौरान महिला अधिकारी पर अभद्र कमेंट किए गए. विरोध करने पर महिला अधिकारी के चालक के साथ मारपीट की गई. इससे चालक रोहित गंभीर रुप से घायल हो गया. हंगामा मारपीट होने पर खाद्य सुरक्षा एवं औषधि प्रशासन की टीम की जिला अभिहित अधिकारी डॉ. श्वेता सैनी ने डीएम कैम्पस पर फोन किया. उसके बाद एमएम गेट की पुलिस हरकत में आई. मौके पर पहुंची पुलिस को देखकर आरोपी फरार हो गए.

नूरी दरवाजा में हुई कार्रवाई

सोमवार को एफएसडीए की टीम जिला अभिहित अधिकारी डॉ. श्वेता सैनी के नेतृत्व में ब्रेकरी पर छापा मारा इस दौरान ब्रेकरी पर चारों ओर गंदगी फैली हुई थी. टीम ने इस दौरान कुछ सैम्पल भरे. इसके बाद कारोबारी संदीप कुमार को गंदगी पर सुधार के लिए नोटिस जारी कर दिया. इस दौरान कुछ युवकों ने आकर टीम से अभद्रता शुरु कर दी. महिला अधिकारी पर कमेंट करना शुरु कर दिया. इस पर टीम के कुछ अधिकारियों ने विरोध किया तो वे मारपीट पर उतारु हो गए. जिला अभिहित अधिकारी के चालक को खींच लिया. उसके सिर में लोहे की रॉड से प्रहार कर दिया, जिससे वह लहूलुहान होकर गिर पड़ा. बताया जाता है कि इस दौरान एमएम गेट के दो सिपाही वहां मौजूद थे. पुलिस की मौजूदगी में हमलावर मारपीट करते रहे. इस बारे में टीम की ओर थाना एमएम गेट में तहरीर दी गई है. इंस्पेक्टर एमएम गेट शिव प्रकाश सोनकर ने बताया कि एक आरोपी गौरव शर्मा निवासी दयालबाग को गिरफ्तार कर लिया है. शेष की तलाश की जा रही है.