-श्री विनायक नर्सिग होम में जमकर हुआ बवाल

-पोस्टमार्टम रिपोर्ट के आधार पर पुलिस करेगी कार्रवाई

GORAKHPUR: शाहपुर एरिया के जेल रोड तिराहा पर श्री विनायक नर्सिग होम में ऑपरेशन के दौरान पेशेंट रामनाथ की मौत हो गई. मरीज की मौत होने पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए पब्लिक ने जमकर बवाल काटा. डेडबॉडी को पोस्टमार्टम के लिए भेजकर पुलिस मामले की जांच में जुटी है. पेशेंट से संबंधित सभी रिकार्ड को पुलिस ने कब्जे में ले लिया है.

पथरी की शिकायत पर कराया भर्ती

शाहपुर, खरैया पोखरा असुरन चुंगी निवासी 65 साल के रामनाथ गुप्ता को पथरी की शिकायत थी. पित्त की थैली में पथरी होने पर डॉक्टरों ने ऑपरेशन की सलाह दी. सोमवार सुबह करीब 11 बजे रामनाथ को नर्सिग होम में भर्ती कराया गया. ऑपरेशन के पहले सभी प्रकार की जांच कराई गई. मंगलवार सुबह करीब साढ़े नौ बजे पेशेंट का ऑपरेशन किया गया. ऑपरेशन थियेटर से पेशेंट को वार्ड में शिफ्ट किया गया. लेकिन करीब आधे घंटे तक पेशेंट बदन में कोई हलचल नहीं हुई.

ऑपरेशन के बाद बिगड़ी हालत, मौत

परिजनों ने इसकी सूचना डॉक्टर्स और कर्मचारियों को दी. ड्यूटी पर मौजूद कर्मचारियों ने पेशेंट को कुछ इंजेक्शन दिया. इसके बाद डॉक्टर सिद्धार्थ को सूचना दी गई. डॉक्टर सिद्धार्थ ने दोबारा पेशेंट को ऑपरेशन थियेटर में ले जाने को कहा. करीब डेढ़ बजे डॉक्टर ने पेशेंट को डेड बताया. तब तक पेशेंट के नात-रिश्तेदार सहित बड़ी संख्या में लोग अस्पताल पहुंच सके थे. पेशेंट की मौत होने से सभी ने हंगामा शुरू कर दिया. तोड़फोड़ और बवाल की सूचना पर भारी पुलिस बल लेकर अधिकारी पहुंच गए. रामनाथ के बेटे कमलेश ने उपचार में लापरवाही का आरोप लगाते हुए तहरीर देकर कार्रवाई की मांग उठाई.

वर्जन

पेशेंट की उम्र करीब 65 साल थी. ब्लड प्रेशर, डायबिटीज और सांस लेने में प्रॉब्लम उनको थी. ऑपरेशन के बाद सामान्य हालत में परिजनों से बातचीत कर रूम में शिफ्ट कराया गया. स्टॉफ ने हालत नाजुक होने की सूचना दी. ऑपरेशन के करीब डेढ़ घंटे के बाद हार्ट अटैक से पेशेंट की मौत हुई है. इलाज में कोई लापरवाही नहीं की गई.

डॉ. सिद्धार्थ अग्रवाल, संचालक, श्री विनायक नर्सिंग होम

मरीज के उपचार से संबंधित सभी कागजात कब्जे में लिए गए हैं. डेड बॉडी को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया था. पीएम रिपोर्ट के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी.

विनय कुमार सिंह, एसपी सिटी