GORAKHPUR: चौरीचौरा इलाके के अवधपुर टोला गढ़वा में रविवार सुबह दो पक्षों के बीच भूमि विवाद को लेकर मारपीट हो गई. इस दौरान दोनों तरफ से कई राउंड फायरिंग भी हुई. पुलिस ने कब्जा करने गए पक्ष से केस दर्ज कर लिया है. अवधपुर टोला गढ़वा गांव के एक जमीन पर रमाकांत सिंह के परिवार का कब्जा है. चौरीचौरा के जंगल मठिया गांव के बलराम पांडेय व राधेश्याम पांडेय इसे अपना बताते हैं. रमाकांत सिंह पक्ष का कहना है कि मामला चकबंदी में है. वहां से जो चक निर्धारित होगा उसे मान लिया जाएगा. जब तक फैसला नहीं होता जमीन पर किसी को कब्जा करने नहीं ि1दया जाएगा.

जुताई कराने में हुआ विवाद

रविवार को बलराम और राधेश्याम पांडेय पक्ष जमीन पर कब्जा करने ट्रैक्टर लेकर पहुंचा और खेत की जुताई शुरू कर दी. रमाकान्त सिंह के परिवार के संजय सिंह को जानकारी हुई. वे सुलभ, शेषनाथ व दो अन्य लोगों के साथ खेत में पहुंच कर कब्जे का विरोध किया. पांडेय पक्ष जब नहीं माना तो उन्होंने 100 नंबर पर सूचना दी. लेकिन घंटेभर बाद भी पुलिस नहीं आई. इसके बाद संजय सिंह और अन्य ने ट्रैक्टर रोकने की कोशिश की, जिसके बाद पांडेय पक्ष ने उनकी पिटाई शुरू कर दी. इस दौरान दोनों तरफ से फायरिंग शुरू हो गई. संजय सिंह पक्ष ने कमजोर पड़ने पर भाग कर अपनी जान बचाई. मारपीट में घायल होने पर वे इलाज कराने जिला अस्पताल पहुंच गए. वहीं, दूसरी ओर पुलिस ने बलराम और घनश्याम पांडेय की तहरीर पर संजय पक्ष से पांच लोगों के खिलाफ धारा 147, 148, 149, 307, 504, 506 के तहत केस दर्ज कर लिया. संजय सिंह पक्ष की तहरीर पर पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की जबकि संजय सिंह पक्ष ने ही पहली सूचना दी थी.

वर्जन

भूमि विवाद को लेकर मारपीट व फायरिंग की घटना में एक पक्ष से मिले तहरीर के आधार पर केस दर्ज किया गया है. दूसरे पक्ष से बातचीत में मारपीट में घायल होने की सूचना दी गई है. मामले की जांच की जा रही है.

- तेज जगन्नाथ सिंह-इंस्पेक्टर, चौरीचौरा