- एयरपोर्ट से गांधी मैदान तक रहेगी टाइट सिक्योरिटी

- बड़े बिल्डिंगों के उपर तैनात रहेंगे सीआरपीएफ के स्नैपर्स

- जांच के बाद ही होगी आम और खास की इंट्री

PATNA : शपथ ग्रहण समारोह को लेकर सिक्योरिटी अरंजमेंट्स पूरे कर लिए गए हैं. वीवीआईपी और वीआईपी के समारोह में शामिल होने के कारण पटना एयरपोर्ट से लेकर लेकर गांधी मैदान व इसके आसपास के एरिया में टाइट सिक्योरिटी व्यवस्था की गई है. सिक्योरिटी के अरेंजमेंट्स ऐसे हैं कि परिंदा भी पर न मार सके. एयरपोर्ट और यहां से गांधी मैदान जाने के वीवीआईपी के रूट व मैदान के अंदर सिक्योरिटी के साथ ही खुफिया एजेंसियों की चप्पे-चप्पे पर कड़ी नजर रहेगी. यही नहीं, एयरपोर्ट, गांधी मैदान जाने के रूट और मैदान के आसपास के उंचे बिल्डिंगों पर सीआपीएफ के स्नैपर्स की तैनाती की गई है. इन्हें पूरी तरह से मुस्तैद रहने को कहा गया है. एयरपोर्ट से गांधी मैदान की दूरी करीब आठ किलोमीटर की है. वीवीआईपी के आने-जाने के रूट में रोड के दोनों तरफ की उंची बिल्डिंगों पर स्नैपर्स रहेंगे. इसके अलावे गांधी मैदान में स्टेज के पीछे बिस्कोमान भवन, स्टेट बैंक, मौर्या होटल के उपर भी सीआरपीएफ के स्नैपर्स की तैनाती की गई है.

होगी थ्री लेयर सिक्योरिटी

एसपीजी के तय मानकों के हिसाब से ही शपथ ग्रहण समारोह के लिए स्टेट पुलिस हेड क्वार्टर ने थ्री लेयर सिक्योरिटी का इंतजाम किया. समारोह में शामिल होने आ रहे वीवीआइपी को एयरपोर्ट पर उतरते ही थ्री लेयर सिक्योरिटी अपने कब्जे में ले लेगी. इसके साथ ही पुलिस हेड क्वार्टर ने दो हजार अतिरिक्त पुलिसकर्मियों की तैनाती की है.

जांच से होगा गुजरना

समारोह में शामिल होने वाले हर आम और खास लोगों को पुलिस की जांच से होकर गुजरना पड़ेगा. वीवीआईपी और वीआईपी की इंट्री वाले गेट से लेकर स्टेज तक एएसपी और डीएसपी लेवल के पुलिस अधिकारियों को लगाया गया है. पटना के एसएसपी विकास वैभव के अनुसार हर गेट पर सीसीटीवी कैमरा लगा गया है. इसके साथ ही मेटल डिटेक्टर भी लगाया गया है. इससे होकर ही सभी को गुजरना होगा. मेटल डिटेक्टर को गांधी मैदान के सभी क्फ् गेट पर लगाया गया है. विशेष निगरानी के लिए वॉच टावर्स भी बनाए गए हैं. प्रोपर मॉनिटरिंग के लिए डिस्ट्रिक्ट कंट्रोल रूम की ओर से स्पेशल तैयारी की गई है.

बुलाए गए अधिकारी और फोर्स

चाक-चौबंद सिक्योरिटी व्यवस्था को लेकर पुलिस एडमिनिस्ट्रेशन ने कोई कसर नहीं छोड़ी है. रोहतास समेत कई दूसरे जिलों के पुलिस अधिकारियों को स्पेशल ड्यूटी पर लगाया गया है. इसमें एसपी, एएसपी और डीएसपी शामिल हैं. इनके अलावे कई इंस्पेक्टर और भारी संख्या में पुलिस फोर्स को भी दूसरे जिलों से बुलाकर सिक्योरिटी में लगाया गया है.

नहीं जा सकेंगे बॉडीगार्ड

समारोह में शामिल होने वाले कोई भी वीआईपी अपने बॉडी गार्ड को मैदान के अंदर नहीं ले जा सकेंगे. एमपी और एमएलए भी शामिल हैं. सिर्फ वीवीआईपी के ही खास बॉडी गार्ड अंदर होंगे. इसमें गवर्नर, दूसरे स्टेट से आने वाले सीएम और सेंट्रल मिनिस्टर शामिल हैं.