- प्लेटफॉर्म नंबर आठ पर रेलवे कर्मचारियों, वेंडर की हरकत

- ट्रेन के इंतजार में थी किशोरी, जीआरपी ने दर्ज किया मुकदमा

Gorakhpur@inext.co.in
GORAKHPUR:  गोरखपुर जंक्शन के प्लेटफॉर्म नंबर आठ पर खड़ी गोदान एक्सप्रेस में तीन युवकों ने किशोरी संग सामूहिक दुष्कर्म किया. घटना शनिवार की रात डेढ़ बजे हुई. गश्त पर निकले जीआरपी और आरपीएफ जवानों की सक्रियता से तीनों आरोपी रंगेहाथ पकड़े गए. किशोरी की तहरीर पर केस दर्ज करके जीआरपी ने तीनों को कोर्ट में पेश किया. कोर्ट ने तीनों को जेल भेजने का आदेश दिया. इंस्पेक्टर जीआरपी अजीत सिंह विशेन ने बताया कि पीडि़त किशोरी को अकेला पाकर युवकों ने हरकत की. किशोरी के परिजनों की तलाश में पुलिस टीम रवाना की गई है.

प्लेटफॉर्म पर थी अकेली
सिद्धार्थनगर, बढ़नी की रहने वाली एक किशोरी की बुआ का घर दोहरीघाट के पास है. शनिवार को उपचार कराने के लिए किशोरी आजमगढ़ गई थी. रात में 10 बजे गोदान एक्सप्रेस से गोरखपुर जंक्शर पर पहुंची. प्लेटफॉर्म नंबर आठ पर उतरकर वह बढ़नी जाने वाली ट्रेन का इंतजार करने लगी. करीब एक बजे उसके पास तीन युवक पहुंचे. किशोरी से परिचय बढ़ाते हुए युवकों ने भी बढ़नी जाने की बात बताई. किशोरी ने उनसे कहा कि मोबाइल डिस्चार्ज होने से वह परिजनों से बात नहीं कर पा रही है. मोबाइल चार्ज करने का झांसा देकर युवकों ने उसे खाली पड़ी बोगी में बुला लिया. किशोरी से कहा कि यहां पर ट्रेन जब तक खड़ी है तब तक हम लोग यहीं बैठकर बात करते हैं. तुम्हारा मोबाइल फोन चार्ज हो जाएगा. एक युवक मोबाइल चार्ज करने के लिए चला गया.

झांसा देकर बोगी में बनाया बंधक
दोनों युवकों के झांसे में आकर किशोरी बोगी में चली गई. खाली बोगी में दोनों उससे बात करते रहे. सुनसान होने पर युवकों ने उसे बोगी में बंधक बना लिया. इतनी देर में तीसरा साथी भी आ गया. उसने अपने दोनों साथियों के सामने किशोरी से दुष्कर्म किया. उसी समय आरपीएफ के जवान रामजीत यादव और संतोष कुमार गश्त करते हुए पहुंचे. किसी के आने की आहट पाकर किशोरी चिल्लाने लगी. आरपीएफ जवानों को देखकर युवकों ने भागने का प्रयास किया. दोनों जवानों ने जीआरपी को सूचना दी. प्लेटफॉर्म पर निकले एसआई अशोक कुमार सिंह, कांस्टेबल श्रीराम और अमरेंद्र भी पहुंच गए. पूछताछ में तीनों युवकों की पहचान रेलवे मैकेनिकल वर्कशॉप में तैनात हेल्पर टू हरिकांत सिंह, शंभू रजक और चौथी गुप्ता के रूप में हुई. हरिकांत और शंभू रेलवे में कर्मचारी हैं. जबकि चौथी स्टेशन पर वेंडर है. किशोरी की तहरीर पर तीनों के खिलाफ केस दर्ज करके जीआरपी ने गिरफ्तार कर लिया. किशोरी ने जीआरपी को बताया कि उसके मां-बाप नहीं हैं. वह रात में ट्रेन का इंतजार कर रही थी.

पहले भी हो चुकी है वारदात
रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर आठ पर पहले भी वारदात हो चुकी है. प्लेटफॉर्म नंबर आठ के पूर्वी छोर पर ट्रेन के इंतजार में बैठी आठ साल की बालिका संग शातिर जहरखुरान ने दुष्कर्म किया था. मार्च माह में हुई घटना के बाद से प्लेटफॉर्म पर आरपीएफ और जीआरपी की गश्त बढ़ा दी गई थी. बताया जाता है कि रात में तमाम नशेड़ी जंक्शन पर घूमते रहते हैं. वह मौका पाकर कोई न कोई गलत हरकत करते हैं.

आरपीएफ और जीआरपी की सक्रियता से सामूहिक दुष्कर्म में शामिल तीनों युवकों को पकड़ लिया गया. उनके खिलाफ केस दर्ज करके किशोरी को मेडिकल परीक्षण के लिए भेजा गया है. किशोरी के परिजनों की तलाश में टीम रवाना की गई है. पकड़े गए दो युवक रेलवे में कर्मचारी हैं.

- अजीत सिंह विशेन, इंस्पेक्टर, जीआरपी थाना