प्रतापगढ़ दहिलामऊ का गौरव और अल्लापुर का अभिषेक था सरगना

करीब 300 ग्राम सोना, लूट की स्कूटी, अपाचे बाइक भी बरामद

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: लूट की घटना को अंजाम गैंग के छह सदस्यों को कर्नलगंज पुलिस ने बैंक रोड मजार तिराहे के पास से धरदबोचा. पकड़े गए लुटेरों से मिले क्लू के आधार पर पुलिस ने लुट का सोना खरीदने वाले सर्राफा कारोबारी दिनेश सोनी निवासी इस्माइलगंज थरवई को भी गिरफ्तार कर किया है. लूटेरों व पकड़े गए सर्राफा कारोबारी के पास से पुलिस ने लूटी गई स्कूटी, तीन सौ ग्राम सोना, 20 हजार रुपए व एक काले रंग की अपाचे बाइक बरामद की है.

गैंग में मेंबर्स के बंटे थे काम

कई माह बाद मिली इस बड़ी कामयाबी का खुलासा पुलिस ने बुधवार को पुलिस लाइंस में मीडिया के सामने किया. एसएसपी नितिन तिवारी ने बताया कि प्रतापगढ़ नगर कोतवाली दहिलामऊ निवासी गौरव राणा और अल्लापुर का अभिषेक भारतीय गिरोह के सरगना हैं. मुखबिरी का काम नया मम्फोर्डगंज कर्नलगंज का वीरेंद्र उर्फ कल्लू व नया कटरा का रविंद्र उर्फ रवि करता था. गौरव के साथ ही सरायइनायत थाना क्षेत्र के कोटवा निवासी सूजर सिंह घटना का प्लान तैयार करता था. लूट करने के बाद सोना व चांदी के आभूषणों को दिनेश सोनी के यहां बेचा करते थे.

सभी पर दर्ज हैं मुकदमें

एसएसपी ने बताया कि बेली रोड निवासी आभूषण कारोबारी सुनील कुमार की स्कूटी 13 जुलाई को मनमोहन पार्क के पास लूटी गई थी. डिग्गी में सोने के जेवरात व अन्य सामान थे. पीडि़त ने रिपोर्ट कर्नलगंज थाने में दर्ज कराई थी. इस पर सीओ आलोक मिश्रा ने इंस्पेक्टर कर्नलगंज सत्येंद्र सिंह, एसएसआइ राकेश सिंह, एसआइ समी आलम व गोविंद सरोज, विनय गौतम को लुटेरों कीे गिरफ्तारी के लिए लगाया. इसी बीच पुलिस को पता चला कि लुटेरों में बंटवारे को लेकर विवाद हो रहा है. संदेह के आधार पर पुलिस ने कुछ को लोगों को दबोच लिया गया. सूरज सिंह की निशानदेही पर झूंसी से लावारिस हालत में स्कूटी बरामद हुई. इसके बाद जब दिनेश सोनी, सूरज के साथ सोना चौक में बेचने जा रहा था, तभी टीम ने घेराबंदी कर दबोच लिया. एसएसपी ने गैंग का पर्दाफाश करने पर टीम को इनाम देने की बात कही है.

सुसाइड कर चुका है कालू मामा

एसएसपी ने बताया कि लुटेरों के गैंग का सदस्य कालू मामा निवासी जार्जटाउन ने कुछ दिन पहले घर में तमंचे से गोली मारकर खुदकशी कर चुका है. वह भी घटना में शामिल था. पुलिस रिकार्ड में गौरव के खिलाफ प्रतापगढ़ में दो मुकदमें दर्ज हैं. जबकि कल्लू के खिलाफ कर्नलगंज में हत्या, मकान पर कब्जे समेत कई मुकदमें हैं. रविंद्र पर भी चार केस हैं. अभिषेक व सूरज तीन-तीन बार जेल जा चुके हैं. इन सभी पर गैंगस्टर की कार्रवाई की जाएगी. रिमांड पर लेकर पुलिस इनसे दूसरी घटनाओं के बारे में भी पूछताछ की जाएगी.