आगरा: शहर फिर शर्मसार हुआ है. सरेशाम गैंगरेप की एक और घटना ने झकझोर दिया. प्रॉपर्टी डीलर की पत्नी के साथ हाथरस रोड पर सामूहिक दुष्कर्म का सनसनीखेज मामला सामने आया है. महिला कार से ससुराल जा रही थी. रामबाग पर पानी की बोतल लेने उतरी. इसी दौरान उसे अकेला देख दो युवक कार की पिछली सीट पर छिप गए. अंदर आते ही कनपटी पर तमंचा लगा कार अपने कब्जे में ले हाथरस रोड की ओर दौड़ा दी. रास्ते में दो और साथियों को भी गाड़ी में बैठा लिया. महिला को एक घंटे तक बंधक बनाकर चलती कार में सामूहिक दुष्कर्म किया. इसके बाद कार, जेवरात और मोबाइल लूटकर रास्ते में फेंक गए. आरोपितों में दो विवाहिता के पति की पहली पत्नी के भाई हैं.

कनपटी पर तमंचा लगाया

सिकंदरा क्षेत्र के एक प्रॉपर्टी डीलर मूलरूप से सादाबाद के रहने वाले हैं. यहां एक अपार्टमेंट में पत्नी के साथ किराए पर रहते हैं. विवाहिता के मुताबिक बुधवार रात 9.30 बजे वह कार से अकेले सादाबाद अपनी ससुरालजा रही थीं. रामबाग पर उन्होंने एक दुकान के सामने पानी की बोतल लेने के लिए कार रोकी थी. पानी लेकर जैसे ही वे कार में आई, उसमें पहले से बैठे दो युवकों को देख उन्होंने शोर मचाने का प्रयास किया. युवकों ने उनकी कनपटी पर तमंचा लगा दिया. दूसरे के हाथ में चाकू था, जान से मारने की धमकी देकर उनसे चुपचाप कार ड्राइव करने को कहा.

कार से कूदने की कोशिश की

रास्ते में युवकों ने अपने दो और साथियों को कार में बैठा लिया. इसके बाद कार की ड्राइविंग सीट पर कब्जा कर उन्हें पीछे की सीट पर कर दिया. युवकों ने कार को हाथरस मार्ग पर दौड़ा दिया. एक घंटे तक अपने कब्जे में रखकर युवक उनके साथ चलती कार में सामूहिक दुष्कर्म करते रहे. इस दौरान कई बार उन्होंने विरोध करने का प्रयास किया. कार से कूदने की कोशिश करने पर युवकों ने गले को चाकू से काटने का प्रयास किया. सामूहिक दुष्कर्म के दो आरोपित उनके पति की पहली पत्नी के भाई हैं.

हत्या की धमकी दी

आरोपितों का कहना था कि अगर शोर मचाया या विरोध किया तो वह उनकी हत्या करके लाश को रास्ते में फेंक देंगे. इससे वह दहशत में आ गई. करीब एक घंटे तक द¨रदगी के बाद युवकों ने कार, मोबाइल और जेवरात लूटने के बाद टेढ़ी बगिया ईट की मंडी के पास फेंक दिया. महिला के मुताबिक 100 नंबर पर सूचना देने पर पहुंची पुलिस को घटना की जानकारी दी. पुलिस ने आरोपितों और कार की काफी देर तक तलाश की. इसके बाद वह थाने पहुंची.