एसपी ने दारोगा को सस्पेंड कर दिया
lucknow@inext.co.in
LUCKNOW : महिलाओं की सुरक्षा को लेकर पुलिस का रवैया नहीं बदल रहा है। गंगाघाट के सामूहिक दुष्कर्म के मामले में दारोगा ने पूरे महकमे की किरकिरी करा दी। दिनदहाड़े महिला से जंगल में सामूहिक दुष्कर्म करने और एक महिला के घर में चोरी करने वाले शातिरों पर कार्रवाई के बजाय उन्हें शरीफ बताने वाले दारोगा की कलई एसपी की जांच में खुल गई। एसपी ने दारोगा को सस्पेंड कर दिया है। ध्यान रहे कि गंगाघाट कोतवाली क्षेत्र के निर्मल नगर के शातिरों ने 30 वर्षीय महिला को जंगल में खींच ले जाकर सामूहिक दुष्कर्म किया था।

सामूहिक दुष्कर्म का वीडियो वायरल

जांच में सामने आया है कि खुद से हुई दरिंदगी का दुखड़ा लेकर पीडि़ता दारोगा देवेंद्र भदौरिया के पास गई तो उन्होंने डपट कर उसे भगा दिया। उसके बाद पीडि़ता किसी और से शिकायत की हिम्मत न जुटा सकी और चुपचाप घर बैठ गई। इस बीच सामूहिक दुष्कर्म का वीडियो वायरल हो गया। वहीं दारोगा के खिलाफ एक अन्य मामला भी पाया गया जिसमें उसने एक चोर को शरीफ आदमी बताते हुए पीडि़त पक्ष को ही मुकदमे में फंसा दिया था। दोनों मामलों में लापरवाही बरतने वाले हलका दारोगा देवेंद्र भदौरिया जांच में दोषी पाए गए जिसके बाद एसपी हरीश कुमार ने उसे सस्पेंड कर दिया।

सामूहिक दुष्कर्म के दो और आरोपी अरेस्ट

दुष्कर्म के आरोपी दाती महाराज कभी भी हो सकते हैं गिरफ्तार, HC ने पुलिस को लगार्इ फटकार

National News inextlive from India News Desk