agra@inext.co.in

AGRA. थाना सिकंदरा में होली वाले दिन 18 वर्षीय युवती का जंगल में ले जाकर तीन दोस्तों ने सामूहिक दुष्कर्म किया. इसके बाद पकड़े जाने के डर से उसकी हत्या कर दी. पुलिस ने जब शिकंजा कसा तो आरोपी ने सरेंडर कर दिया. रिमांड पर आरोपी ने पुलिस को घटना बताई. पुलिस ने युवती का कंकाल बरामद किया है.

होली वाले दिन ले गया था
सिकंदरा एरिया निवासी युवती के पिता की मौत हो चुकी है. वह मां के साथ फैक्ट्री में काम कर परिवार का पेट भर रही थी. होली वाले दिन दोपहर में 11:30 बजे वह मां के साथ बाजार से लौट रही थी. उस दौरान एरिया का सोनू मिला. वह पहले से परिचित था. मां ने बेटी को बहन के यहां पर छोड़ने को बोल दिया. वह नशे में था उसे बाइक पर ले गया.

आरोपी ने किया सरेंडर
रास्ते में सोनू के दोस्त मिल गए. युवती को देख कर उनकी नियत में खोट आ गया. वह उसे यमुना की खादर में ले गए. वहां पर उसके साथ गैंग रेप किया. युवती ने उनकी शिकायत करने की धमकी दी तो पकड़े जाने के भय से उसका गला दबा दिया. गला दबाने के दौरान युवती ने जंगल में बचने के लिए दौड़ लगा दी लेकिन तीनों आरोपियों ने घेर लिया. उसकी लाश को वहीं पर फैंक कर घास से ढक दिया. बेटी के घर न पहुंचने पर मां ने तलाश की. आरोपी के घर पर जाकर पूछा तो आरोपी भी नहीं मिला. बाद में परिवार भी फरार हो गया. पुलिस ने मामले में अपहरण का मुकदमा दर्ज किया. तीन महीने से सुराग न मिलने पर पुलिस का माथा ठनका. पुलिस ने उसके परिजनों को उठा लिया. आरोपी ने 1 जून को कोर्ट में सरैंडर कर दिया.

पुलिस ने कंकाल किया बरामद
पुलिस ने पकड़ने के तीन दिन बाद पुलिस ने आरोपी के परिजनों को जेल भेज दिया. पुलिस ने बुधवार को सोनू को रिमांड पर लिया. कड़ाई से पूछताछ करने पर उसने राज उगल दिया. उसकी निशानदेही पर पुलिस जंगल में गई और शव को बरामद किया. पुलिस को युवती का कंकाल और कपड़े मिले. पुलिस ने सोनू के दोस्त मोहित और जीतू को भी पकड़ लिया है.