गया के कोंच थाना क्षेत्र की घटना बेटी की इज्जत पर भी डाला हाथ

PATNA : महिला सुरक्षा पर एक बार फिर सवाल खड़ा हो गया है. दावा कुछ भी हो लेकिन सिस्टम आधी आबादी को सेफ्टी नहीं दे पा रहा है. गया में महिला के साथ दरिंदगी ने एक बार फिर प्रदेश में सुरक्षा व्यवस्था की पोल खोल दी है. गया के गुरारू-अहियापुर स्टेट हाईवे-69 पर कोंच थाना एरिया में बदमाशों ने बुधवार की रात एक परिवार से पहले लूटपाट की फिर पति को बंधक बनाकर महिला से गैंग रेप किया और बेटी से भी रेप की कोशिश की. पटना के जोनल आईजी ने इंस्पेक्टर को सस्पेंड कर दिया है और जांच के लिए एसआईटी का गठन कर दिया है.

.. नहीं पिघला दरिंदों का दिल

कोंच थाना एरिया में बुधवार की रात घात लगाए बैठे बदमाशों ने एक परिवार को रोककर पहले लूटपाट की फिर पति और बेटी को बंधक बना लिया. पति और बेटी के सामने पत्‍‌नी के साथ गैंग रेप किया गया.

पति रहम करने के लिए चीखता चिल्लाता रहा लेकिन बदमाश नहीं मानें. वह इज्जत बख्श देने की बात कहते रहे लेकिन बदमाशों ने एक न सुनी उल्टे बेटी से भी छेड़छाड़ की. पुलिस का कहना है कि पीडि़त परिवार गुरारू से बाइक से गांव जा रहा था. रास्ते में बदमाश घात लगाए बैठे थे.

हथियार से लैस थे बदमाश

पीडि़त का कहना है कि बदमाश हथियार से लैस थे. वह हथियार के बल पर पहले बाइक रुकवा ली फिर लूटपाट किया. पीडि़तों का कहना है कि पति और बेटी के हाथ-पैर बांध दिए गए थे. इस घटना से पहले सड़क से गुजरने वाले दो-तीन लोगों को भी अपराधी लूटपाट के बाद हाथ-पैर बांधकर रखे हुए थे.

नकाबपोश थे बदमाश

एसएसपी राजीव मिश्रा का कहना है कि पूछताछ में जो बात सामने आई है उसके मुताबिक घटना में नौ लोग शामिल थे. 6 बदमाशों ने मुंह ढंक रखा था. तीन बदमाश बिना नकाब के थे. दो की पहचान पीडि़ता की बेटी ने कर ली है. 22 युवकों को पुलिस हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. विशेष जांच टीम पूरे घटनाक्रम की जांच कर रही है. पटना के आइजी नैयर हसनैन खां ने घटना के बाद कोंच थानाध्यक्ष राजीव रंजन सिंह को तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है.

पुलिस की छापेमारी हुई तेज

गैंग रेप की घटना के बाद पटना के जोनल आईजी नैय्यर हसनैन खां ने पुलिस को कड़ी फटकार लगाई है और बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए अलर्ट कर दिया है. आईजी के आदेश के बाद अफसरों के होश उड़े हैं. एसएसपी राजीव मिश्रा, टिकारी डीएसपी नागेन्द्र सिंह, शेरघाटी डीएसपी मनीष कुमार सिन्हा व एसपी अभियान रात से ही छापेमारी में लगे हैं. अफसर देर रात गुरारू थाना पहुंचे. घटनास्थल के आसपास के गांवों में छापेमारी कर दो दर्जन लोगों को हिरासत में लेकर पूछताछ की जा रही है. पुलिस अफसर गुरारू थाने में कैंप करते रहे. पुलिस की मानें तो घटना में शामिल दो लोगों की पहचान पीडि़ता की बेटी ने की है. बेटी के साथ भी छेड़खानी की बात सामने आई है.