60 से 90 प्रतिशत डिस्काउंट मिलेगा ब्रांडेड जेनेरिक दवाइयों पर

ब्रांडेड कंपनियों की जेनेरिक दवाइयां बेहद सस्ती दरों पर मिलेंगी

Meerut . अगर आप भी महंगी व ब्रांडेड दवाइयों की मार से जूझ रहे हैं तो यह खबर आपको राहत दे सकती है. इसके तहत अब प्रधानमंत्री जन औषधि केंद्रों पर ब्रांडेड कंपनियों की जेनेरिक दवाइयां बेहद सस्ती दरों पर मिलेंगी, अभी तक सिर्फ जन औषधि परियोजना के तहत एक ही कंपनी की दवाइयां यहां बेची जा रही थी.

मिलेगा मोटा डिस्काउंट

जन औषधि केंद्रों पर मिलने वाली ब्रांडेड जेनेरिक दवाइयों पर मरीजों को 60 से 90 प्रतिशत डिस्काउंट मिलेगा. वहीं यहां 600 से ज्यादा दवाइयां और 150 सर्जिकल आइटम भी अब मरीजों को किफायती दरों पर मिल सकेंगे. सेंट्रल हेल्थ मिनिस्ट्री ने जन औषधि केंद्रों पर इन दवाइयों को बेचने की मंजूरी दे दी है. ब्रांडेड जेनेरिक दवा योजना के चलते अब यहां मरीजों को हर तरह की दवाएं बाजार से कहीं अधिक सस्ते दामों पर मिलेंगी.

नहीं हो पा रही थी सप्लाई

मोदी सरकार की ओर से खोले गए जनऔषधि केंद्रों पर देशभर में एक ही कंपनी ब्यूरो ऑफ फार्मास्कि्यूटिक्लस ही दवाइयां प्रोवाइड करा रही थी. इस कंपनी की ओर से इन केंद्रों पर जन औषधि परियोजना की करीब 600 दवाइयां सप्लाई होनी थी, लेकिन डिमांड अधिक होने की वजह से यहां दवाइयों की बेहद किल्लत थी. करीब 360 प्रकार की जरूरी दवाएं यहां उपलब्ध ही नहीं हो पाई थी. जिसमें कैंसर, लीवर, बीपी, हार्ट आदि की दवाइयां शामिल हैं. इसके अलावा सिट्रीजिन 10 एमजी, मल्टी विटामिन कैप्सूल, पेंटाप्राजोल, बी कॉम्प्लेक्स, टेल्मीसार्टेन, मेटोकोलाल 50 एमजी, लिवोसेट्रीजिन 10 एमजी आदि दवाइयों की भी किल्लत बनी हुई थी. मेरठ में करीब 19 जनऔषधि केंद्र हैं.

जन औषधि केंद्रों पर ब्रांडेड कंपनियों की जेनेरिक दवा बेचने का निर्णय लिया गया है. यहां मरीजों को 60 से 90 प्रतिशत तक बाजार कीमत से सस्ती दवाएं मिलेंगी.

पवन शाक्य, ड्रग इंस्पेक्टर, मेरठ

हमारे पास कंपनी से सप्लाई बेहद कम आ रही थी. दूसरे ब्रांड की जेनेरिक दवाइयां बेचने से मरीजों को भी फायदा मिलेगा.

सचिन गुप्ता, विक्रेता, जनऔषधि केंद्र