gorakhpur@inext.co.in
GORAKHPUR: चौरीचौरा एरिया के एक मोहल्ले में प्रेमी की पिटाई से आहत होकर जहर खाने वाली माशूका की जान चली गई। घटना के बाद किशोरी के परिजन घर छोड़कर फरार हो गए। उसके ब्वायफ्रेंड को घरवालों ने अस्पताल में भर्ती कराया। पुलिस का कहना है कि दोनों पक्षों ने आपस में समझौता कर लिया था। बदनामी के डर से किशोरी ने जहर खाकर जान दे दी। एसएचओ चौरीचौरा ने बताया कि किसी ने कोई तहरीर नहीं दी है। फिलहाल पुलिस आरोपितों की तलाश में जुटी है.

रात में दो बजे मिलने पहुंचा था ब्वायफ्रेंड
क्षेत्र के एक गांव में रहने वाली कक्षा नौ की छात्रा का एक किशोर से प्रेम संबंध चल रहा था। सोमवार रात करीब दो बजे उससे मिलने ब्वायफ्रेंड पहुंच गया। इसकी जानकारी उसके घर वालों को हो गई। लोगों ने किशोर को पकड़कर पीटना शुरू कर दिया। शोरगुल होने पर पास पड़ोस के लोग भी पहुंच गए। किसी ने यूपी 100 को मामले की जानकारी दे दी।

उधर किया समझौता, इधर किशोरी ने दी जान
सूचना पाकर पहुंची पुलिस किशोर को अपने साथ लेकर थाने चली गई। उसके परिवार सहित अन्य लोग भी आ गए। लड़की और ब्वायफ्रेंड के परिजनों ने आपस में सुलह-समझौता कर लिया। लेकिन किसी ने किशोरी को बता दिया कि पिटाई से उसके प्रेमी की हालत खराब हो गई है। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इससे परेशान होकर किशोरी ने जहर खा लिया। किशोरी की हालत बिगड़ने पर परिजन उसे मेडिकल कालेज लेकर पहुंचे। लेकिन जान नहीं बचाई जा सकी।

छात्रा का गांव के एक लड़के से प्रेम संबंध था। घर में घुसने की कोशिश में उसे लोगों ने पकड़कर पीट दिया। बाद में दोनों पक्षों ने आपस में समझौता भी कर लिया। लड़के की पिटाई और बदनामी से आहत होकर किशोरी ने जहर खा लिया।
- नीरज कुमार राय, इंस्पेक्टर, चौरीचौरा