पासपोर्ट ऑफिस में बैठने और पेयजल तक का नहीं इंतजाम

विभागीय अधिकारी नहीं दिखा रहे संजीदगी, पब्लिक परेशान

Meerut. कैंट स्थित डाकघर में बीते दो महीने से पासपोर्ट ऑफिस का संचालन हो रहा है. लेकिन पासपोर्ट ऑफिस में समुचित व्यवस्थाएं न होने से आवेदकों को परेशानी का सामना करना पड़ता है. हालांकि, अब समस्या को दूर करने के लिए शनिवार को विभागीय अधिकारियों की बैठक होगी.

विभागों के बीच फंसे

हालत यह है कि दो विभागों के बीच कार्य अटकने जाने से व्यवस्था में सुधार नहीं हो पा रहा है. दरअसल, पासपोर्ट कार्यालय को जो बिल्डिंग मुहैया कराई गई है, उसमें व्यवस्थाओं को चुस्त-दुरुस्त कराने की जिम्मेदारी डाकघर की है. बावजूद इसके, विभागीय अधिकारी इसकी अनदेखी कर रहे हैं. बीते दिनों कैंट विधायक सत्यप्रकाश अग्रवाल ने भी पासपोर्ट ऑफिस में व्यवस्थाओं को ठीक करने के लिए पोस्ट ऑफिस और पासपोर्ट ऑफिस के अधिकारियों के साथ बैठक की थी. जिसका कोई हल अभी तक नहीं निकला.

यह है परेशानी

गर्मी के दिनों में आवेदकों के लिए यहां पेयजल के लिए कोई व्यवस्था नहीं है.

ऑफिस में आवेदकों के बैठने के लिए समुचित कुर्सियां भी उपलब्ध नहीं रहती हैं.

सारी व्यवस्थाओं की जिम्मेदारी डाक विभाग की है लेकिन डाक विभाग जिम्मेदारियों से भाग रहा है. हमने अपने उच्च कार्यालय को पत्र भेज दिया है. जल्द ही इस समस्या का भी निवारण कर लिया जाएगा.

रंजन कुमार, सहायक पासपोर्ट अधिकारी

पहले पासपोर्ट अधिकारी द्वारा सिर्फ भवन की मांग की गई थी, जो डाकघर द्वारा मुहैया करा दिया गया. अब यह सारी व्यवस्थाओं की मांग डाक विभाग से कर रहे हैं.

पीडी रैगर, डाक अधीक्षक

पासपोर्ट ऑफिस में गर्मी के दिनों में पेयजल की व्यवस्था होनी चाहिए. गर्मी के दिनों में वाकई बहुत परेशानी होती है.

बनी सिंह

पासपोर्ट ऑफिस में बुनियादी जरूरतें ही पूरी नहीं हैं. यहां दूर-दराज से आवेदक आते हैं. इतनी गर्मी में कम से कम पेयजल का तो इंतजाम होना चाहिए.

अजय चौधरी