patna@inext.co.in

PATNA : प्रदेश में उत्पादन तो लगातार बढ़ रहा है, किंतु अन्न की सुरक्षा का पर्याप्त प्रबंध नहीं है. इस समस्या को दूर करने के लिए सहकारिता विभाग अगले चार वर्ष में पैक्सों और व्यापार मंडलों में आठ लाख मीट्रिक टन क्षमता के गोदाम बनाने जा रहा है. इस पर 560 करोड़ रुपये खर्च होंगे. चालू वित्तीय वर्ष के लिए राज्य सरकार ने 175 करोड़ रुपये जारी कर दिए हैं. इससे ढाई लाख मीट्रिक टन क्षमता के गोदाम का निर्माण कराया जाएगा. सहकारिता विभाग की योजना खाद्य एवं उपभोक्ता संरक्षण विभाग की योजना से अलग होगी.

बिना ब्याज दिया जाएगा कर्ज

गोदाम निर्माण के लिए चयनित पैक्सों एवं व्यापार मंडलों को सहूलियत देते हुए राज्य सरकार निर्माण लागत की सौ फीसदी राशि की व्यवस्था करेगी. लागत की आधी राशि अनुदान के रूप में तथा शेष राशि चक्रीय पूंजी के रूप में दी जाएगी. यह ब्याज मुक्त राशि होगी, जिसकी वापसी निर्माण के अगले वर्ष से 20 छमाही किस्तों में की जा सकती है. पैसे नहीं लौटाने वाले पैक्सों पर कार्रवाई होगी. निर्माण के लिए पैक्सों एवं व्यापार मंडलों का चयन जिला स्तर पर प्रमंडलीय संयुक्त निबंधक एवं सहयोग समितियों की अध्यक्षता में गठित समितियों द्वारा किया जाएगा. निर्माण कार्यो की निगरानी डीएम की अध्यक्षता में गठित समिति करेगी, जिसमें जिला सहकारिता पदाधिकारी शामिल होंगे.