भगवा रंग में रंगने लगा मेरठ का नगर निगम

फर्नीचर मरम्मत के नाम पर हो रहा खेल

Meerut . एक तरफ नगर निगम अपने सफाई अभियान के लिए बजट की कमी रोना रो रहा, वहीं दूसरी तरफ फर्नीचर को भगवा रंग में रंग कर सरकारी बजट का दुरपयोग किया जा रहा है. इस मामले में निगम के पार्षदों ने निगम के फर्नीचर को बिना जरुरत भगवा रंग में किए जाने पर आपत्ति जताते हुए नगरायुक्त से शिकायत दर्ज कराई है.

रिपेयर हो रहा फर्नीचर

दरअसल नगर निगम द्वारा हर साल सभी विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों के फर्नीचर की रिपेयरिंग का काम कराया जाता है. लेकिन इस बार रिपेयरिंग के नाम पर भगवा रंग के कपडे़ से कवर किया जा रहा है. ऐसे फर्नीचर व सोफों की रिपेयरिंग का काम चल रहा है जो गत वर्ष ही नया खरीदा गया था.

पार्षदों ने जताई आपत्ति

पार्षदों ने आरोप लगाया कि जिस फर्नीचर में बदलाव किया जा रहा वह पहले से ही सही है. रिपेयरिंग की जरुरत भी नही है. ऐसे में फर्नीचर को बदलने के लिए सरकरी धन का दुरपयोग किया जा रहा है.

वर्जन-

इस मामले में जानकारी नही है. सोमवार को मामले की जानकारी ली जाएगी.

- अली हसन कर्नी, अपर नगरायुक्त

नगर के पास नगर की सफाई का बजट नही है, लेकिन भगवा रंग में कार्यालय को करने का काम शुरू कर दिया गया है. हम इस मामले में जानना चाहते हैं कि किस मद से यह काम हो रहा है.

- अब्दुल गफ्फार, पार्षद

निगम में बहुत से अनावश्क काम ऐसे हो रहे हैं, जिनकी अभी जरूरत नही है. आप सरकार को खुश करने के लिए भगवा रंग करा रहे हैं यह सब जानते हैं. इसके लिए जनता के पैसे का दुरपयोग न हो.

- धर्मवीर, पार्षद

निगम के फर्नीचर की मरम्मत ठीक है लेकिन यह मरम्मत के नाम पर रंग क्यों बदला जा रहा है इसका तो निगम के अधिकारियों को जवाब देना चाहिए.

मो. शाहिद, पार्षद