मेल्‍ट डाउन और स्पेक्टर जैसी ही है यह नई बग

शायद आपको याद होगा कि इसी साल की शुरुआत में दुनिया भर के कंप्यूटरों को प्रभावित करने वाली एक नई CPU बग खोजी गई थी, जिसका नाम था मेल्‍टडाउन और स्पेक्टर। कंप्‍यूटर के ब्राउजर्स की उस समस्या से निपटने के लिए दुनिया के सभी प्रमुख ब्राउज़र Chrome, ऐज और सफारी ने अपडेशन पर जारी किए थे, ताकि यूजर्स का पर्सनल डेटा चोरी न हो जाए। द वर्ज डॉट कॉम की रिपोर्ट के मुताबिक इसी कड़ी में गूगल और माइक्रोसॉफ्ट ने हाल ही में सीपीयू यानि कंप्‍यूटर के प्रोसेसर की एक ऐसी ही खामी पकड़ी है जो Speculative Store Bypass (variant 4) कैटेगरी में आती है। मॉडर्न प्रोसेसर को मिली अतिरिक्‍त समझदारी का नतीजा है यह खामी। जिसके चलते प्रोसेसर अपने यूजर का पर्सनल डेटा लीक करवा सकता है। यही इसकी समस्‍या है।

गूगल-माइक्रोसॉफ्ट ने खोजी डेटा लीक करने वाली cpu बग,उसे ठीक करने में स्‍लो हो जाएंगे दुनिया भर के कंप्‍यूटर!


बग को ठीक करने का तरीका कर देगा सिस्‍टम स्‍लो

प्रोसेसर द्वारा अंजाने में यूजर का पर्सनल डेटा लीक करने वाली इस बग को ठीक करने के कंप्‍यूटर एक्‍सपर्ट ने एक तोड़ तो खोज लिया है, लेकिन अब समस्‍या यह है कि सिस्टम की सिक्योरिटी बढ़ाने के लिए कुछ भी किया जाएगा तो वह कंप्यूटर की प्रोसेसिंग को पहले से स्लो कर देगा। आने वाले हफ्ते में कंपनियां सीपीयू की इस खामी को दूर करने वाला अपडेशन जारी करने वाली हैं।

8 परसेंट तक स्‍लो हो सकते हैं कंप्‍यूटर

पीसीवर्ल्‍ड डॉट कॉम के मुताबिक इंटेल के सिक्योरिटी चीफ Leslie Culbertson के मुताबिक हमने इंटेल सीपीयू की इस खामी को दूर करने के लिए फर्मवेयर का एक माइक्रोकोड पैच बीजा वर्जन में जारी कर दिया है। हालांकि शुरुआती टेस्टिंग के दौरान हमने पाया कि सीपीयू की इस कमी को दूर करने का प्रयास पर कंप्यूटर की परफॉर्मेंस पर 2 से 8 पर्सेंट तक का निगेटिव असर पड़ सकता है। बता दें कि यह टेस्टिंग रिजल्‍ट कंप्यूटर सिस्टम की परफॉर्मेंस बताने वाले इंटरनेशनल बेंच मार्क SYSmark 2014 SE and SPEC integer पर आधारित हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक किसी भी सिस्टम एडमिनिस्ट्रेटर को अपने कंप्यूटर की सिक्योरिटी और बेहतरीन परफॉर्मेंस में से किसी एक को चुनना होगा।

गूगल-माइक्रोसॉफ्ट ने खोजी डेटा लीक करने वाली cpu बग,उसे ठीक करने में स्‍लो हो जाएंगे दुनिया भर के कंप्‍यूटर!


CPU
बग पकड़ने के लिए माइक्रोसॉफ्ट ने रखा था ढाई लाख डॉलर का इनाम

द वर्ज डॉट कॉम की रिपोर्ट बताती है कि इसी साल मार्च महीने में माइक्रोसॉफ्ट ने मेल्‍टडाउन और स्पेक्टर जैसी CPU खामियों को पकड़ने के लिए ढाई लाख डॉलर का ईनाम रखा था। माइक्रोसॉफ्ट के स्पोक्सपर्सन के मुताबिक हम इंटेल और एमएडी प्रोसेसर मैन्यूफैक्चर के साथ मिलकर काम कर रहे हैं। ताकि कंप्यूटर की परफॉर्मेंस पर कम से कम असर डालते हुए हम CPU की इस नई खामी को दूर कर सकें।


यह भी पढ़ें:

ये डिवाइस आपके स्‍मार्टफोन की बैट्री लाइफ बढ़ा देगी 100 गुना!

मनपसंद कंप्‍यूटर गेम्‍स अब डायरेक्‍ट प्‍ले कीजिए अपने एंड्रॉयड फोन पर, यह है Smart तरीका

मूवी कैमरा बनाने वाली कंपनी लाई है ऐसा फोन, जो किसी ने सपने में भी नहीं सोचा था।

Technology News inextlive from Technology News Desk