- अन्य विभागों को जागरूक कर रहा स्वास्थ्य महकमा लेकिन खुद है लापरवाह

GORAKHPUR: वेक्टर जनित बीमारी को लेकर स्वास्थ्य महकमा हाई अलर्ट पर है. वह अन्य विभागों को इस के लिए जागरूक भी कर रहा है लेकिन खुद इसको लेकर लापरवाह है. नगर निगम, रोडवेज, मलेरिया विभाग के साथ कई अस्पतालों को पत्र भेजकर डेंगू, चिकनगुनिया, जेई व एईएस को लेकर अलर्ट करने और विभाग से कबाड़ और टायरों को हटाने के लिए कहने वाले अस्पताल प्रशासन के अपने कैम्पस में ही डेंगू का लार्वा पाला जा रहा है.

----------

ओटी

- गंदे कपड़ों की धुलाई हौज में की जाती है. जिसका पानी बगल की नाली से होकर गुजरता है मगर नाली में सिल्ट जमा है.

- जलनिकासी नहीं हो पा रही है.

- हौज में रखा टब पानी से भरा रहता है.

---

न्यू बिल्डिंग

- जिला अस्पताल की न्यू बिल्डिंग के सामने अस्पताल का सारा कबाड़ बेतरतीब तरीके से रखा गया है.

- कबाड़ में बारिश का पानी आकर जमा होता है. जिसके चलते वेक्टर जनित बीमारी होने का खतरा है.

डेंगू मरीजों की संख्या

वर्ष संदिग्ध पुष्टि

2016 1105 168

वर्तमान में ----- 02

वर्जन

सभी डॉक्टर्स व स्टाफ को आगाह किया गया है. दवाइयां मंगा ली गई है. पैरामेडिकल टीम लगाई ग‌र्इ्र है. अस्पताल में वार्ड भी आरक्षित कर दिए गए हैं. अस्पताल भवन में पड़े कबाड़ को डिस्पोज कराया जाएगा.

डॉ. रवींद्र कुमार, सीएमओ