- पशुओं की तस्करी और हत्या के प्रयास के तीन मामलों में है आरोपी

- पुलिस टीम पर फायरिंग कर गैंग सहित फरार हो गई थी रिंकू गोस्वामी

GORAKHPUR: दक्षिणांचल की महिला तस्कर रिंकू गोस्वामी लंबे समय बाद बुधवार को पुलिस के हत्थे चढ़ गई. रिंकू के अलवा उसके गैंग के तीन अन्य लोगों को भी पुलिस ने दबोच लिया है. रिंकू पर गगहा और बांसगांव में तीन से ज्यादा मुकदमे दर्ज हैं. इन पर हत्या के प्रयास के भी मामले शामिल हैं. पुलिस की घेराबंदी करने पर यह स्वयं पुलिसवालों पर फायर कर भागती थी. एसपी साउथ ज्ञान प्रकाश चतुर्वेदी ने बताया कि महिला पशु तस्कर के ऊपर गैंगेस्टर की कार्रवाई की जाएगी.

लंबे समय से थी फरार

एसपी साउथ ने बताया कि गगहा थाना क्षेत्र के कहला गांव की रहने वाली रिंकू गोस्वामी का उस समय सबसे पहले नाम सामने आया था जब उसने अपनी बोलेरो से कौड़ीराम चौकी इंचार्ज को कुचलने की कोशिश की थी. पुलिस तभी से उसकी तलाश कर रही थी. उस घटना के बाद गगहा थाने में दो बार पशु तस्करी के मामले में भी उसका नाम सामने आया. तीन अगस्त 2018 की रात में ग्रामीणों ने रिंकू गोस्वामी की गाड़ी को घेर लिया था. सूचना पर गगहा पुलिस भी पहुंच गई थी. पुलिस टीम पर फायरिंग करते हुए वह अपने साथियों के साथ फरार हो गई थी. उसके बाद उसकी तलाश के लिए पुलिस की एक टीम लगाई गई थी. उन्होंने बताया कि थानाध्यक्ष गगहा सत्य प्रकाश को सूचना मिली कि रिंकू गोस्वामी अपनी टीम के साथ पकड़ी दुबे गांव से बनियापार रोड होते हुए निकलने वाली है. टीम ने बंधा पुलिया के पास घेराबंदी कर रिंकू तथा उसके तीन साथियों दिलेर उर्फ दिलशेर खान, मेजर खान उर्फ मेराज निवासी मुसैली थाना गगहा व विनोद निवासी राजा कोल थाना गोला को गिरफ्तार किया. पुलिस टीम ने उसके पास से 12 बोर का एक तमंचा, एक कारतूस और जीप बरामद किया है.