-20 मार्च को मांगी थी पांच लाख की रंगदारी, दोनों पर था ईनाम

-पिपराइच के कैथवलिया में हुए अनिकेत हत्याकांड में कराना चाहते थे सुलह

GORAKHPUR: क्राइम ब्रांच और पिपराइच पुलिस ने अनिकेत हत्याकांड की वादिनी संगीता से केस में सुलह की धमकी देने और पांच लाख की रंगदारी मांगने के दो आरोपियों को अरेस्ट कर लिया। पुलिस ने दोनों को शुक्रवार सुबह इस्माइलपुर मोड़ स्थित दुर्गा मंदिर के पास से अरेस्ट किया। दोनों की पहचान पिपराइच के करमैना निवासी अशोक चौरसिया और चिलुआताल के नकहा नंबर दो निवासी सुनील साहनी के रूप में हुई। पुलिस ने सुनील पर 15 हजार और अशोक पर दस हजार रुपए का इनाम घोषित किया था। पुलिस ने इनके पास से एक तमंचा, एक कारतूस और एक बाइक बरामद किया है।

पुलिस लाइंस सभागार में शुक्रवार दोपहर एक मामले का खुलासा करते हुए एसपी क्राइम आलोक कुमार वर्मा और सीओ क्राइम प्रवीण सिंह ने बताया कि खोराबार के कैथवलिया निवासी अनिकेत की 16 अक्टूबर 2018 की शाम गोली मारकर हत्या कर दी गई थी। अनिकेत की चाची संगीता की तहरीर पर पुलिस ने कैथवलिया के वर्तमान प्रधान राजू यादव, उसके भाईयों, चाक समेत चार के खिलाफ केस दर्ज कर सभी को गिरफ्तार कर लिया। अभी भी चारों जेल में हैं। पुलिस के मुताबिक, जेल में बंद मुख्य आरोपी राजू यादव के कहने पर 20 मार्च को अशोक कुमार चौरसिया और सुनील साहनी ने केस की वादी संगीता को जगदीशपुर बाजार में पहुंच कर केस की पैरवी से हटने, सुलह करने और पांच लाख रुपए देने की मांग की। इसके बाद संगीता की तहरीर पर पुलिस 26 मार्च को धमकी और रंगदारी का केस दर्ज कर दोनों की तलाश कर रही थी। इस दौरान पुलिस ने दोनों को रास्ते में दबोच लिया। पूछताछ में दोनों ने हत्याकांड में राजू के साथ शामिल होना स्वीकार किया है। इसलिए केस में इन दोनों को भी शामिल किया जाएगा।