रविवार की रात आंधी-पानी ने किया परेशान

कहीं पोल पर गिरे पेड़ तो कहीं फंसा मंझा

GORAKHPUR: शहर में बिजली की व्यवस्था सुधारने के दावों हवा आंधी-पानी में निकल जा रही है. रविवार की रात आई आंधी-पानी ने बिजली व्यवस्था की पोल खोलकर रख दी. कुछ मोहल्लों में रात में गायब हुई बिजली करीब 10 घंटे तक गायब रही. सोमवार को दोपहर बाद बिजली मिली तो लोगों की दिनचर्या शुरू हो सकी. हालांकि बुद्ध पूर्णिमा का अवकाश होने से स्कूली छात्रों और कर्मचारियों को कम दिक्कत महसूस हुई. एसई ने बताया कि रात में कई जगहों पर बिजली शुरू करा दी गई थी. बड़ी गड़बडि़यों वाली जगहों पर दिन में काम कराया गया. इससे थोड़ी समस्या बनी रही.

आंधी-पानी में खुल रही विभाग की पोल

रविवार रात अचानक आंधी-पानी आई. इससे शहर की बिजली व्यवस्था पूरी तरह से चरमरा गई. बिजली अफसरों और कर्मचारियों का मोबाइल बंद होने से पब्लिक को सही जानकारी मिल सकी. लोग बिजली न मिलने की वजह जानने के लिए परेशान रहे. बिजली सप्लाई बाधित होने से नगर निगम के नलकूप भी ठप रहे. इससे वाटर सप्लाई बाधित हो गई. बताया जाता है तारामंडल फीडर में रात 10 बजे से गायब बिजली सुबह साढ़े 11 बजे मिल सकी. शाहपुर इलाके में सुबह आठ बजे और दुर्गाबाड़ी के ओवरब्रिज फीडर से जुड़े मोहल्लों में दो ट्रांसफार्मर बंद रहे. लाइन पर पेड़ गिरने से सप्लाई ठीक करने में काफी देरी हुई. तारामंडल-रुस्तमपुर में 11 केवीए की सप्लाई कटी रही. इस वजह से मोहद्दीपुर, रामजानकी नगर, बक्शीपुर, टाउनहाल, तारामंडल, गौतम विहार विस्तार, लाल डिग्गी समेत कई फीडर से जुड़े मोहल्लों में ठीक से सप्लाई नहीं हो सकी. टाउनहाल फीडर के बेतियाहाता में तारों के बीच उलझे मंझे ने काफी देर तक परेशान किया. सुबह साढ़े 10 बजे फाल्ट मिलने पर कर्मचारी लाइन चालू कर सके.

अकुशल नाइटगैंग, जूझते रहे कर्मचारी

रात में अचानक कटौती होने पर सभी बिजली सब स्टेशन और फीडर पर नाइट गैंगमैन की तैनाती की गई है. उनके पास एक मोबाइल फोन भी रहता है. लेकिन अप्रशिक्षित कर्मचारी रात में आने वाली समस्या से निपट नहीं पाते हैं. विभाग के परमानेंट कर्मचारी फॉल्ट होने पर झांकने नहीं जाते. उधर बारिश की वजह से नखास चौक के पास अंडरग्राउंड केबल में करंट उतर गया. इस वजह से कोतवाली फीडर की सप्लाई बंद रही.

10 घंटे से अधिक रही कटौती

तारामंडल, रुस्तमपुर, शाहपुर, सूरजकुंड, रेलवे बस स्टेशन, गोलघर, घोष कंपनी, रायगंज, अलीनगर, जाफरा बाजार, शाहपुर, खजांची चौराहा, मोहद्दीपुर, नंदानगर, कूड़ाघाट सहित करीब दो दर्जन मोहल्लों में 10 घंटे से अधिक बिजली गायब रही.

वर्जन

बिजली की खराबी से निपटने के लिए टीम लगाई गई थी. कर्मचारियों की टीम रात में फाल्ट खोजकर सप्लाई बहाल करने की कोशिश में लगी रही. ज्यादा गड़बड़ी वाली जगहों पर ज्यादा समय के लिए लाइन कटी. सुबह तक ज्यादातर जगहों पर सप्लाई चालू करा दी गई थी.

एके सिंह, एसई, महानगरीय विद्युत वितरण मंडल