- शहर में बिना सूचना बिजली कटने से हो रही प्रॉब्लम

- रविवार को मोहद्दीपुर सहित कई मोहल्लों में गायब रही बिजली

GORAKHPUR: शहर में बिजली कटौती से रविवार की छुट्टी का मजा किरकिरा हो गया. जिन मोहल्लों में बिजली कटी नहीं, वहां दिनभर लो वोल्टेज की प्रॉब्लम बनी रही. लो वोल्टेज की वजह से घरेलू उपकरण ठीक से नहीं चल पाए. एसी और कूलर चलाने में पसीना छूट गया. बिजली अधिकारियों का कहना है कि बिजली व्यवस्था ठीक ढंग से चली. लेकिन पब्लिक में इसको लेकर काफी नाराजगी नजर आई. लोगों का कहना है कि गर्मी के पहले ही सारा काम कर लेना चाहिए था. लेकिन बिजली विभाग के अधिकारियों और कर्मचारियों की मनमानी से सबको झेलना पड़ रहा है.

रविवार को भी कई जगह कटी बिजली

नार्मल फीडर के रावत पाठशाला के पास ट्रांसफॉर्मर का लोड बांटने पर समस्या का समाधान नहीं हो सका है. इस मोहल्ले में रविवार को दिनभर बिजली की कटौती बनी रही. जिन उपभोक्ताओं के घरों में सप्लाई पहुंची, वहां भी लो वोल्टेज ने गणित गड़बड़ कर दिया. मोहद्दीपुर एरिया में दिनभर में करीब 15 बार बिजली कटी. लाइट के आने-जाने का सिलसिला जारी रहा. बिजली व्यवस्था की हालत देखकर लोगों ने पानी का जरूरी इंतजाम कर लिया था. राप्ती नगर, फर्टिलाइजर, विकास नगर, खोराबार, सूबा बाजार, आवास विकास कॉलोनी सहित कई जगहों पर बिजली की सप्लाई ने परेशान किया. रविवार को पैडलेगंज से लेकर मोहद्दीपुर के बीच पेड़ काटने की वजह से सप्लाई ठप रही.

छह दिन से चल रही आंख-मिचौली

शहर में बिजली व्यवस्था सुधारने के लिए सब स्टेशन और फीडर पर काम चल रहा है. इस वजह से रोजाना किसी न किसी एरिया में बिजली काटी जा रही है. कुछ जगहों पर कटौती के 24 घंटे पूर्व सूचना दी जा रही तो कुछ जगहों पर बिना किसी सूचना पर बिजली कर्मचारी लाइन काट अपना काम करने लग रहे हैं. गर्मी बढ़ने की वजह से पिछले छह दिनों से शहर में कटौती बढ़ गई है. नार्मल फीडर से जुड़े मोहल्लों में छह दिन के भीतर करीब 70 घंटे से ज्यादा सप्लाई बाधित रही है. राप्ती नगर इलाके में करीब 50 घंटे की अतिरिक्त कटौती उपभोक्ताओं को झेलनी पड़ी है.

कोट्स

शहर में मरम्मत के नाम पर रोजाना बिजली काटी जाती है. करीब दो साल से यह चला आ रहा है. अभी तक समस्याएं दूर नहीं हो सकी हैं. गर्मी बढ़ते ही बिजली तंग करने लगती है.

- प्रभाकर, प्रोफेशनल

यहां समस्या आने के बाद अधिकारी जाग रहे हैं. सीएम सिटी में इनको हर चीज की मुक्म्मल व्यवस्था करनी चाहिए. नार्मल इलाके में तीन-चार दिनों से प्रॉब्लम है. सीनियर अधिकारियों को कोई जानकारी नहीं न होना खेद जनक है.

- अश्वनी दुबे, प्रोफेशनल

दिन में गर्मी की वजह से बिजली कटने लगी है. जब साल भर मरम्मत कराई जा रही है तो ऐसी नौबत क्यों आ रही है. शिकायत करने पर कोई अधिकारी बात नहीं सुनता है. सब कुछ भगवान भरोसे ही चल रहा है.

- दिलीप कपाडि़या, टीचर

वर्जन

ऐसी कोई प्रॉब्लम सामने नहीं आई थी. लोकल फॉल्ट की वजह से थोड़ी बहुत कटौती हो सकती है. सुधार और मरम्मत कार्य के लिए बिजली कटने की सूचना पहले से दे दी जाती है. अचानक किसी तरह की गड़बड़ी आने पर उसे ठीक कराया जा रहा है.

- एके सिंह, एसई, महानगर विद्युत वितरण मंडल