-गोवर्धन पर अन्नकूट का प्रसाद पाने के लिए मंदिरों में उमड़ी श्रद्धालुओं की भीड़

-कायस्थ समाज ने निकाली भगवान चन्द्रगुप्त की शोभायात्रा, शहर विधायक ने किया शुभारंभ

> BAREILLY :

दिवाली के पर्व पर थर्सडे को घर-घर और मंदिरों में गोवर्धन पूजा श्रद्धा के साथ की गई. इस दौरान मंदिरों में अन्नकूट का आयोजन किया गया. जिसमें 56 प्रकार के व्यंजन का भगवान को भोग लगाया गया. जिसके बाद श्रद्धालुओं को प्रसाद का वितरण किया गया. इसके साथ ही शहर में भगवान चित्रगुप्त की शोभायात्रा भी निकाली गई.

अन्नकूट उत्सव की रही धूम

तुलसी स्थल में हुए कार्यक्रम में महंत कमल नयन दास ने प्रवचन देते हुए कहा कि हमें अपनी संस्कृति को भूलना नहीं चाहिए. पाश्चात्य सभ्यता से हम लोगों का कभी उद्धार नहीं हो सकता और अपनी जन्मभूमि के प्रति हमारा जो कर्तव्य है उसका पालन हमें हमेशा करना चाहिए. उन्होंने कहा कि भगवान कृष्ण ने सदैव अपने वचनों में बताया है कि व्यक्ति को अपना कर्तव्य बोध ज्ञान होना चाहिए, हमेशा अपना कर्म सात्विक रखना चाहिए. अन्नकूट उत्सव में दोपहर 12:00 बजे महाआरती हुई. जिसके बाद श्रद्धालुओं को अन्नकूट प्रसाद वितरण किया गया. कार्यक्रम में मीडिया प्रभारी संजीव औतार अग्रवाल, पूर्व मेयर डॉक्टर आईएस तोमर, विधायक केसर सिंह, पूर्व विधायक भगवत शरण गंगवार, प्रताप चंद्र सेठ, हरिओम अग्रवाल, अनुपम कपूर, विनय कृष्ण अग्रवाल और सुभाष मेहरा आदि मौजूद रहे.

यहां भी मनाया गया अन्नकूट

बड़ा बाग स्थित हनुमान मंदिर, रामायण मंदिर माधोबाड़ी, बांके बिहारी मंदिर राजेन्द्र नगर, तपेश्वर नाथ सुभाषनगर और धोपेश्वर नाथ मंदिर पर भी कार्यक्रम हुए. जिसमें बड़ी संख्या में श्रद्धालुओं ने भाग लिया.

शोभायात्रा का हुआ स्वागत

भगवान चित्रगुप्त की जयंती के उपलक्ष्य में आलमगिरीगंज स्थित खंडसारी नाथ मंदिर में पूजन के बाद शहर में शोभायात्रा निकाली गई. शोभायात्रा का शुभारंभ शहर विधायक डॉक्टर अरुण कुमार ने नारियल फोड़कर किया. शोभायात्रा कुतुबखाना, कोहाड़ापीर से होते हुए गुद्दड़बाग स्थित चित्रगुप्त मंदिर पर संपन्न हुई. रास्ते में शोभायात्रा का भक्तों ने स्वागत किया.