5वीं बार एक्साइज ड्यूटी
केंद्र सरकार ने फेस्‍टिव सीजन के दौरान अचानक से कल शुक्रवार की रात से पेट्रोल और डीजल पर एक्‍सइज ड्यूटी यानी की उत्‍पाद शुल्‍क बढ़ा दिया है। कहा जा रहा है कि केंद्र सरकार ने बजट लक्ष्यों को पूरा करने के लिए अचानक से पेट्रोल और डीजल पर यह एक्साइज ड्यूटी लागू कर दी है। जिसमें पेट्रोल के दाम 1 रुपए 60 पैसे एक्‍साइज ड़यूटी और डीजल पर 40 पैसे प्रति लीटर के हिसाब एक्‍साइज डयूटी बढ़ी हैं। ऐसे में इस बढ़ोतरी के बाद पेट्रोल पर बेसिक एक्साइज ड्यूटी 5.46 रुपये प्रति लीटर से बढ़ाकर 7.06 रुपये हो गई है। सबसे खास बात तो यह है कि पिछले एक साल में केंद्र सरकार ने अब तक यह पांचवी बार एक्साइज ड्यूटी बढ़ाई है। ऐसे में लोगों को मानना है कि इसका असर आम वाहन चालको पर भी पड़ेगा।

अभी और बढा सकती

वहीं इस एक्साइज ड्यूटी के मामले में सूत्रों की मानें तो सरकार पेट्रोल और डीजल पर एक्साइज ड्यूटी के बल पर 4000 करोड़ रुपये जुटाने की कोशिश कर रही है। जिससे अभी यह और एक्साइज ड्यूटी बढ़ा सकती है। जिससे सरकार ने क्रूड की घटती कीमतों को एडजस्ट करने के लिए पेट्रोल और डीजल पर एक्साइज ड्यूटी में बढ़ोतरी की है। बतातें चलें कि अभी पिछले दिनों 31 अक्टूबर को पेट्रोल के दामों में गिरावट हुई थी। देश भर में पेट्रोल कंपनियों ने पेट्रोल का दाम 50 पैसे/लीटर घटाया था। जिससे वाहन चालको को थोड़ी राहत मिली थी। हालांकि इस दौरान डीजल के दाम में कोई फैरबदल नहीं किया गया था।

inextlive from Business News Desk

Business News inextlive from Business News Desk