- जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज की नई प्रिंसिपल डॉ.आरती लाल चंदानी ने चार्ज लेने के बाद गिनाई अपनी प्राथमिकताएं

- आने वाले मरीजों को बेहतर केयर मिले, इसके लिए मिलकर करना होगा काम, कोई डॉक्टर बुरा बर्ताव नहीं करेगा

द्मड्डठ्ठश्चह्वह्म@द्बठ्ठद्ग3ह्ल.ष्श्र.द्बठ्ठ

यन्हृक्कक्त्र: जीएसवीएम मेडिकल कॉलेज की नई प्रिंसिपल डॉ.आरती लालचंदानी ने देर रात चार्ज संभालने के बाद बुधवार को मेडिकल कॉलेज ऑडिटोरियम में स्टूडेंट्स व फैकल्टी को भी संबोधित किया. उन्होंने न सिर्फ कॉलेज के लिए अपनी प्राथमिकताएं गिनाई, बल्कि 2014 प्रकरण में मेडिकल स्टूडेंट्स के लिए लड़ी गई लड़ाई को भी याद किया. इस दौरान स्टूडेंट्स की तरफ से उन्हें वेलकम भी किया गया. डॉ. आरती कहा कि मेडिकल कॉलेज में स्टूडेंट्स को पढ़ने का बेहतर माहौल मिले साथ रेजीडेंट्स को इलाज करने में कोई दिक्कत न हो यही उनकी प्राथमिकता है. हमारे पास बेस्ट स्टूडेंट्स व फैकल्टी हैं. इसलिए हम जीएसवीएम को देश का नंबर-1 मेडिकल कांॅलेज बनाएंगे. हॉस्टलों की हालत सुधारने से लेकर खाने पीने की सुविधाओं को भी बेहतर किया जाएगा. मेडिकल कॉलेज में बटरफ्लाई पार्क भी बनाया जाएगा.

गलती होगी तो माफी भी मांगेगे

मेडिकल फैकल्टी, रेजीडेंट्स से मुखातिब प्रिंसिपल डॉ.आरती लालचंदानी ने कहा कि मेडिकल कॉलेज आने वाले मरीजों को बेहतर केयर मिले. इसके लिए काम होगा. कोई रेजीडेंट या डॉक्टर बुरा बर्ताव नहीं करेगा. अगर गलती होगी तो माफी भी मांगेंगे. मीठे बोल से काम कराएंगे. वहीं शाम को डॉ. चंदानी ने हॉस्टलों का निरीक्षण भी किया और उनकी साफ सफाई से लेकर कई दूसरे कामों को समय पर पूरा कराने के निर्देश दिए.