- चाइनीज से ज्यादा इस बार हैंडमेड राखियों से सजा बाजार

GORAKHPUR: भाई-बहन का पवित्र त्योहार रक्षाबंधन करीब आते ही शहर में राखियों के बाजार में रौनक आ गई है. इस बार चाइनीज से ज्यादा हैंडमेड राखियों की खासी डिमांड है. जिनमें राजस्थानी गोटे व फूल से बनी राखी के साथ ही वेस्ट मैटेरियल से बनाई गईं राखियां लोगों को खासी पसंद आ रही हैं. वहीं, लुंबा राखियों की भी मार्केट में खासी डिमांड चल रही है.

करीब आया त्योहार, सज गया बाजार

26 अगस्त को रक्षाबंधन पर्व है. इस दिन बहन अपने भाई की कलाई पर राखी बांधती हैं तो भाई बहन की रक्षा का वचन देता है. इस पर्व को इस बार और भी खास बनाने के लिए राखी बचने वाले दुकानदारों ने खास तैयारी कर रखी है. राखियों के बाजार में इस बार सबसे ज्यादा हाथ से बनी राखियों की डिमांड है. इसके साथ ही राजस्थानी गोटे व फूल वाली राखी और वेस्ट मैटेरियल से बनाई गईं राखियां लोगों को खासी पसंद आ रही हैं. इसके अलावा कस्टमाइज फोटो वाली राखियां भी काफी अट्रैक्ट कर रही हैं.

वेस्ट मैटेरियल से बनती सुंदर राखी

हैंडमेड राखियां बनाने वाली अंबिका सिंघानिया व प्रीति चोखानिया ने बताया कि लोगों में रेडीमेड से ज्यादा हैंडमेड राखियों को लेकर क्रेज है. इन्हें राजस्थानी गोटा, रक्षासूत्र, मोती लैस, मिरर, पंपम मोर पंखी के साथ-साथ वेस्ट मैटेरियल आदि से तैयार किया गया है. जिसकी कीमत 35 रुपए से स्टार्ट होकर 350 रुपए तक है. वहीं, बहनों को भाई की तरफ से दिए जाने वाले हैंडमेड गिफ्ट्स की भी खासी रेंज अवेलबल है. जिसमें 40 रुपए से लेकर 2500 रुपए तक के आइटम्स शामिल हैं.

हैंड मेड राखियां कीमत

राजस्थानी गोटा फूल 250

रक्षासूत्र 35

कस्टमाइज फोटो राखी 100

मोती लैस 250

मिरर राखी 125

फ्लावर राखी - 125

पंपम - 150

स्माइली (बच्चों के लिए) - 125

मोर पंखी - 100

लुंबा छकलिया - 350

कोट्स

चाइनीज राखियों से लोगों का कहीं न कहीं मोह भंग होता नजर आ रहा है. यही वजह है कि हाथ की बनी हुई राखियां जबरदस्त डिमांड में हैं.

- अंबिका सिंघानिया, शॉप ओनर

हाथ से बनी राखियों में भाई-बहन के प्यार को पिरोने का प्रयास किया गया है. लुंबा छकलिया समेत मिरर राखी, पंपम की ज्यादा डिमांड है.

- प्रीति चोखानियां, शॉप ओनर

मैने हाथ से बनी राखी खरीदी है. चाइनीज राखियां थोड़ी सस्ती होती हैं लेकिन स्वदेशी राखी से इस पर्व को सेलिब्रेट करेंगे.

- रीता, कस्टमर

अपनी बहन के लिए गिफ्ट खरीदने आया था. हाथ से बने हुए गिफ्ट मुझे बेहद पसंद हैं. हाथ से बनाई गई राखियां भी काफी आकर्षित कर रही हैं.

- गौरव, कस्टमर