- यूपी में टूरिस्ट की संख्या में करीब 21.60 का इजाफा

- रंग ला रही 'यूपी नहीं देखा तो इंडिया नहीं देखा' टैग लाइन

anuj.tandon@inext.co.in

LUCKNOW: यूपी पर्यटन विभाग की 'यूपी नहीं देखा तो इंडिया नहीं देखा' टैगलाइन धीरे-धीरे अपना रंग दिखा रही है। तभी तो पिछले साल प्रदेश में आने वाले टूरिस्ट की संख्या में 21.60 फीसद का इजाफा हुआ है, जबकि 2017 में यह वृद्धि 9.61 फीसद थी। विभाग की ओर से जारी टूरिस्ट डेटा-2018 के अनुसार प्रदेश में स्वदेशी टूरिस्ट की संख्या में जहां 21.84 फीसद का इजाफा हुआ है वहीं विदेशी टूरिस्ट की संख्या 6.31 फीसद बढ़ी है। इस आकड़े से उत्साहित पर्यटन विभाग उम्मीद कर रहा है कि प्रदेश की कानून व्यवस्था में होने वाला सुधार और कनेक्टिविटी सुविधा आने वाले वर्षो में और भी अधिक पर्यटकों को आकर्षित करेगी।

प्रचार का मिल रहा फायदा

पर्यटन विभाग के निदेशक अवनीश कुमार अवस्थी बताते हैं कि प्रदेश में होली, दीपावली आदि पर्वो के साथ यहां होने वाले महोत्सवों का खूब प्रचार-प्रसार किया जा रहा है। त्योहारों में अधिकतर पर्यटक मथुरा, वाराणसी, चित्रकूट, अयोध्या, प्रयागराज आदि शहरों में आते हैं। इसमें विदेशी टूरिस्ट की भी अच्छी संख्या होती है। प्रदेश में पर्यटन के क्षेत्र में अपार संभावनाएं मौजूद हैं। इसे देखते हुए बौद्ध सर्किट को और भी व्यापक बनाने पर जोर दिया जा रहा है।

पापुलेशन से ज्यादा टूरिस्ट

वर्ष 2018 में यूपी में कुल 28 करोड़ 88 लाख 60 हजार 600 टूरिस्ट आए। वहीं प्रदेश की जनसंख्या 23 करोड़ के आसपास है। जबकि 2017 में टूरिस्ट का आंकड़ा 23 करोड़ 75 लाख 33 हजार 823 था। ऐसे में कहा जा सकता है कि यूपी की जितनी आबादी है, उससे ज्यादा टूरिस्ट यहां अब घूमने के लिए आ रहे हैं। जिससे यहां रोजगार के साधनों में भी इजाफा हो रहा है।

आगरा, प्रयागराज का आकर्षण

प्रदेश में आगरा और प्रयागराज आने वाले पर्यटकों की संख्या काफी रहती है। प्रयागराज लोग धार्मिक कारणों से और आगरा ताजमहल देखने आते हैं। पर्यटन विभाग की रिपोर्ट के अनुसार बीते साल प्रदेश के प्रमुख नगरों में आने वाले पर्यटकों की संख्या इस प्रकार है

शहर टूरिस्ट

आगरा 1,09,04,792

प्रयागराज 33,78,909

लखनऊ 38,85,898

वाराणसी 29,17,320

अयोध्या 1,45,442

कोट

प्रदेश में कुंभ के भव्य आयोजन के बाद ज्यादा टूरिस्ट आ रहे हैं। कानून व्यवस्था में सुधार के साथ ही बेहतर रोड कनेक्टिविटी भी पर्यटकों को आकर्षित कर रही है। पर्यटकों को आकर्षित करने के लिए डिपार्टमेंट कई योजनाओं पर काम कर रहा है।

अवनीश कुमार अवस्थी

निदेशक पर्यटन विभाग

बाक्स

लगातार बढ़ रहे टूरिस्ट

साल नेशनल टूरिस्ट फॉरेन टूरिस्ट कुल

2017 23,39,77,619 35,56,204 23,75,33,823

2018 28,50,79,848 37,80,752 28,88,60,600