लग्जरी सुविधाओं से लैस ट्रेन के पटरी पर आने से पहले दैनिक जागरण आईनेक्स्ट ने लिया जाएगा

प्रयागराज, दूरंतो के बाद अब हमसफर से सफर को उत्साहित हैं इलाहाबादी पैसेंजर्स

ALLAHABAD: इलाहाबाद से आनंद विहार और नई दिल्ली के लिए राजधानी, प्रयागराज, दूरंतो व मेल एक्सप्रेस समेत तीन दर्जन से अधिक ट्रेनें हैं. लेकिन बुधवार को जो 'हमसफर एक्सप्रेस' रवाना होने जा रही है वह इन सभी से पूरी तरह अलग है. कुछ ट्रेनों में इलाहाबाद से दिल्ली का सफर अब तक आनंददायक होता था, जिसे हमसफर सुहाने सफर में तब्दील कर देगी. दैनिक जागरण आईनेक्स्ट रिपोर्टर ने मंगलवार को वाशिंग लाइन में खड़ी हमसफर एक्सप्रेस का जायजा लिया. क्या हैं इसकी खूबियां आप भी जानें..

हर कोच में लगा है स्मोक डिटेक्टर

हमसफर एक्सप्रेस में यदि चोरी छिपे किसी ने स्मोकिंग की कोशिश की तो पकड़ा जाएगा. ट्रेन के हर कोच में छत पर थोड़ी-थोड़ी दूरी पर स्मोक डिटेक्टर लगे हैं.

सीसीटीवी से सब पर रहेगी नजर

हमसफर एक्सप्रेस में इंट्री करने वाला एक-एक पैसेंजर सीसीटीवी कैमरे की नजर में रहेगा. क्योंकि कोच में इंट्री करने के दोनों मेन गेट के पास ही एक-एक सीसीटीवी कैमरा लगा है.

एलईडी टीवी में रनिंग स्टेटस

सफर के दौरान अक्सर लोगों में ये उत्सुकता रहती है कि रवाना होने के बाद ट्रेन रास्ते में कहां पहुंची? डेस्टीनेशन कितना दूर है? कितना समय और लगेगा? अगला स्टेशन कौन सा है? इन सब सवालों का जवाब ढूंढने के लिए हमसफर के पैसेंजर्स को न तो मोबाइल पर सर्च करना होगा, न खिड़की से बाहर झांकना होगा. बस केवल अपने कोच के गेट के उपर लगे एलईडी टीवी को देखना होगा. इसमें थोड़ी-थोड़ी देर पर अपडेट बताता रहेगा.

आराम से पढि़ए किताब

लग्जरी होटल के कमरों में जिस तरह आकर्षक एलईडी लाईट लगाए जाते हैं, कुछ इसी तरह की एलईडी लाइट हमसफर की हर सीट पर लगी है. ये सिर के उपर नहीं, बल्कि साइड में है. इसे ऑन कर पैसेंजर्स आराम से किताब पढ़ सकते हैं. किसी दूसरे को दिक्कत न हो, इसलिए पैसेंजर्स अपनी सुविधानुसार लाइट को घूमा सकते हैं.

थ्री स्टॉर होटल की तरह वॉशरूम

हमसफर एक्सप्रेस का वॉशरूम काफी स्टाईलिश बनाया गया है. वाशबेशिन पर संगमरमर का पत्थर लगा है. यूरिनल के लिए अलग प्वाइंट बना है.

ये खासियत है सबसे अलग

- हमसफर में सफर के दौरान चंदन, खस और रजनीगंधा की भीनी-भीनी खुशबू कोच को महकाती रहे, इसके लिए एक कोच में तीन-तीन एयर फ्रेशनर लगाए गए हैं.

- सफर के दौरान यदि कोई घटना होती है, आग लगती है या शार्ट सर्किट होता है तो पर्याप्त मात्रा में फायर इंस्ट्रीग्यूशर मौजूद हैं. हर कोच में दोनों मेन गेट के इंट्री प्वाइंट पर एक-एक फायर इंस्ट्रीग्यूशर लगाए गए हैं. दो कोच के बीच में खाली स्थान पर रबराईज्ड मैट लगा है. दो कोच के बीच में स्लाइडिंग वाले गेट लगे हैं.

मनोज सिन्हा दिखाएंगे हरी झंडी

- बुधवार शाम 6.30 बजे रेल राज्य मंत्री मनोज सिन्हा के हरी झंडी दिखाने के बाद इलाहाबाद से रवाना होगी हमसफर एक्सप्रेस

- रात में 9 बजकर पांच मिनट पर कानपुर सेंट्रल स्टेशन पहुंचेगी

- अगले दिन सुबह पांच बजे आनंद विहार टर्मिनल पहुंचेगी

- 10 मई को आनंद विहार टर्मिनल से हमसफर एक्सप्रेस रात में 10 बजकर 20 मिनट पर चलेगी.

कानपुर में पांच मिनट स्टापेज

- इलाहाबाद से आनंद विहार के बीच चलने वाली हमसफर एक्सप्रेस रात में जंक्शन से 10 बजकर 20 मिनट पर रवाना होगी.

- 12 बजकर 40 मिनट पर कानपुर पहुंचेगी.

- पांच मिनट रूकने के बाद आगे के लिए रवाना होगी. अगले दिन सुबह 6 बजकर 15 मिनट पर आनंद विहार पहुंचेगी.

- उसी दिन आनंद विहार से रात में 10 बजकर 20 मिनट पर चलेगी.

- भोर में 3 बजकर 40 मिनट पर कानपुर स्टेशन पहुंचेगी.

- पांच मिनट ठहराव के बाद रवाना होगी.

- सुबह 6 बजकर 10 मिनट पर इलाहाबाद जंक्शन पहुंच जाएगी.

हमसफर की स्पीड

18 कोच वाली हमसफर एक्सप्रेस में हैं 1296 बर्थ

गाड़ी की अधिकतम स्पीड 130 किमी प्रति घंटा रहेगी

- गाड़ी 79.15 किमी प्रति घंटा की चाल से चलेगी

- 620 किमी की दूरी हमसफर एक्सप्रेस सात घंटे 55 मिनट में तय करेगी