होनोलुलू (एपी)। अमेरिका की पहली हिंदू सांसद तुलसी गबार्ड ने 2020 में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव के लिए औपचारिक रूप से अपना अभियान शुरू कर दिया है। उन्होंने ऑनलाइन एक वीडियो पोस्ट करके अपना चुनाव अभियान शुरू किया। बता दें कि हवाई क्षेत्र का प्रतिनिधत्व करने वाली अमेरिकी संसद गबार्ड के अलावा कई लोगों ने डेमोक्रेटिक पार्टी की ओर से राष्ट्रपति पद की उम्मीदवारी हासिल करने के लिए अपनी दावेदारी पेश की है। इसमें भारतीय मूल की पहली अमेरिकी सीनेटर कमला हैरिस भी शामिल हैं। उन्होंने सोमवार को चुनाव प्रचार शुरू करते हुए घोषणा की कि वे भी 2020 में होने वाले अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव में हिस्सा लेंगी।

जरूरतों के बारे में क्यों नहीं बात करते लोग

तुलसी और कमला के अलावा सीनेटर एलिजाबेथ वारेन, सीनेटर क‌र्स्टन गिलिब्रांड और जूलियन कास्त्रो ने भी राष्ट्रपति पद की दौड़ में शामिल होने की घोषणा कर दी है। गबार्ड ने गुरुवार को वीडियो में कहा, 'जो लोग अभी सत्ता में हैं, वे देश और लोगों की भलाई के बारे में नहीं सोच रहे हैं। आखिरकार वे हमारे लोगों की जरूरतों के बारे में क्यों नहीं  बातचीत कर रहे है?' बता दें कि तुलसी ने दिसंबर में ही एक इंटरव्यू के दौरान 2020 में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में भाग लेने के संकेत दे दिए थे। जब उनसे एक कार्यक्रम में राष्ट्रपति चुनाव को लेकर कुछ सवाल पूछा गया तो उन्होंने इसके जवाब में कहा, 'मैं इस बात पर गंभीरता से विचार कर रही हूं, हमारा देश जिस दिशा में जा रहा है, उसे लेकर मैं बहुत चिंतित हूं।'

सांसद के रूप में चौथा कार्यकाल
गौरतलब है कि 37 वर्षीय तुलसी गबार्ड का अमेरिका में सांसद के रूप में यह चौथा कार्यकाल है। अगर तुलसी 2020 में होने वाले राष्ट्रपति चुनाव में हिस्सा लेने का ऐलान कर देती हैं तो वह व्हाइट हाउस की दौड़ में शामिल होने वाली पहली हिंदू उम्मीदवार होंगी। इसके अलावा वह अगर चुनाव में जीत हासिल कर लेती हैं तो वो अमेरिका की सबसे युवा और पहली महिला राष्ट्रपति बन जाएंगी।

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति जॉर्ज डब्ल्यू बुश पहुंचे पिज्जा डिलीवर करने, शेयर की तस्वीर

International News inextlive from World News Desk