patna@inext.co.in
PATNA: बिहार में भीषण गर्मी और लू चौथे दिन भी जानलेवा साबित हुई। इसकी वजह से मंगलवार को बिहार के विभिन्न जिलों में 43 लोगों की मौत हो गई। सर्वाधिक प्रभावित मगध और शाहाबाद क्षेत्र में लू का असर कम हुआ, पर खत्म नहीं हुआ है। यहां मंगलवार को 14 लोगों की मौत हो गई। इस क्षेत्र में शनिवार से अभी तक 200 से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। अस्पतालों में तीन सौ भी ज्यादा मरीज भर्ती हैं। भयावह स्थिति की वजह से दिन में 11 बजे से चार बजे तक निषेधाज्ञा लगाकर बाजार बंद करने के आदेश दिए गए हैं।

पूर्व बिहार में 11 मरे
मंगलवार को भागलपुर में चार, जमुई और मुंगेर में दो-दो तथा बांका में तीन लोगों की मौत हो गई। दर्जनों लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

5 जिले में 11 मरे
वैशाली, भोजपुर, नालंदा और छपरा जिले के सोनपुर में मंगलवार को लू लगने से दस लोगों की मौत हो गई। कटिहार जिले के मोहनपुर पंचायत के अंतर्गत रक्खा टोला में होमगार्ड की लू की चपेट में आने से मौत हो गई। औरंगाबाद, गया और सासाराम में अधिक मौत गया में चार लोगों की मौत हो गई, जबकि सासाराम में पांच और औरंगाबाद में चार की मौत की पुष्टि की गई है। मगध मेडिकल कॉलेज अस्पताल में 165 मर्जी अभी भी भर्ती हैं।