दो दिनों की लगातार बारिश में भरे नदी और डैम

सड़क पर जल जमाव, घरों में घुसा गंदा पानी

लांग ड्राइव और पहाड़ी इलाको में अगले 24 घंटे तक न जाने की चेतावनी

42.2 मिमी शनिवार को रांची में रिकार्ड हुई बारिश

98 परसेंट रहा ह्यूमिडिटी का लेवल

16 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चल रही ठंडी हवा

25 डिग्री सेल्सियस रहा रांची का अधिकतम तापमान

48 घंटे कोमेन के कमजोर होने के बाद थम सकती है हवा की गति

>RANCHI: बंगाल की खाड़ी में उठे कोमेन तूफान का असर रांची में दूसरे दिन भी दिखा. शुक्रवार से शुरू हुई बारिश लगातार शनिवार को भी होती रही. मौसम विभाग के अनुसार शनिवार को ब्ख्.ख् मिमी बारिश रिकॉर्ड की गई. लगातार बारिश तापमान में गिरावट दर्ज हुई है. शनिवार को रांची का अधिकतम तापमान ख्भ् डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान ख्क्.फ् डिग्री सेल्सियस रहा. जबकि सुबह में ह्यूमिडिटी का लेवल 98 प्रतिशत और शाम में 97 प्रतिशत रहा.

मौसम विभाग ने किया अलर्ट

चक्रवाती तूफान कोमेन का असर हवा के रूख में साफ दिख रहा है. पूरे दिन क्म् किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलती रही, जिससे ठंड और सिहरन भी महसूस हुई. तूफान के कमजोर पड़ने के ब्8 घंटे बाद ही हवा की गति कम होने की उम्मीद है. इस बीच मौसम विभाग की ओर से बाहर जाने-आने, लांग ड्राइव या पहाड़ी जगहों पर ना घूमने को लेकर चेतावनी जारी की गई है.

घरों में घुसा बारिश का पानी

बारिश का आलम सुबह से कुछ ऐसा रहा कि लोग दिन भर घरों में दुबके रहे. वहीं, कामकाजी लोगों के लिए छतरी और रेनकोट सहारा बना. सड़कों पर जलजमाव होने के कारण लोग गंदे पानी से होकर आते-जाते रहे. वहीं, निचले इलाकों के घरों में भी पानी भर गया, लोग घर से पानी निकालते रहे. खासकर लोअर चुटिया, लोअर व‌र्द्धमान कम्पाउंड, हिंदपीढ़ी, करमटोली, बरियातू, कोकर तिरील बस्ती, कटहल मोड़ के कई घरों में पानी घुस गया. वहीं स्कूल, कॉलेज और ऑफिस जाने वाले लोग छतरी में खुद को बचते नजर आए.

रविवार को भी होगी बारिश

मौसम विभाग के पूर्वानुमान पदाधिकारी आरके महतो ने बताया कि कोमेन का सिस्टम पहले से कमजोर हुआ है. पूरी संभावना है कि अगले ख्ब् घंटे में तूफान पूरी तरह कमजोर पड़ जाएगा. बावजूद इसके रांची में इसका प्रभाव अगले ख्ब् घंटे रहेगा. रविवार को भी बारिश होगी, लेकिन पिछले दिनों से कम बारिश की संभावना है.