DEHRADUN: प्रदेश में रेगुलर हेली सेवाओं के लिए कवायद शुरू हो गई है. सूबे के आधा दर्जन इलाकों को एयर कनेक्टिविटी के जरिए जोड़ा जाएगा. इनमें देहरादून, मसूरी, केदार वैली, हल्द्वानी व पिथौरागढ़ तक सस्ती दरों पर हेली सर्विसेज मुहैया कराई जाएंगी.

उड़ान योजना के तहत सेवा

केंद्र की उड़ान योजना के तहत उत्तराखंड में इसी वर्ष अप्रैल से दून-पंतनगर के बीच हवाई सेवा शुरू की जानी है. ये सेवा एयर डेक्कन द्वारा संचालित की जानी है.

गढ़वाल-कुमाऊं में एयर कनेक्टिविटी

दून-पंतनगर के बीच हवाई सेवा के बाद सूबे के आधा दर्जन इलाकों में तैयार किए गए हेलीपैड्स से हेली सेवाएं भी संचालित करने की योजना है. इसके तहत नई टिहरी, श्रीनगर, गोपेश्वर और देहरादून में सहस्त्रधारा हेलीपैड और कुमाऊं मंडल में हल्द्वानी, अल्मोड़ा बागेश्वर एवं धारचूला में हेली सेवाएं शुरू की जानी हैं. बताया जा रहा है कि यह प्रक्रिया अंतिम चरण में हैं. हालांकि, अभी हेली सेवा मुहैया कराने वाली कंपनियों का चयन नहीं किया गया है.

इन स्थानों के लिए सेवा

टिहरी, श्रीनगर, गोपेश्वर, सहस्त्रधारा, हल्द्वानी, अल्मोड़ा, बागेश्वर, धारचूला, मसूरी, पिथौरागढ़

अफसर कर चुके मंथन

फ‌र्स्ट फेज में दून के सहस्त्रधारा, मसूरी, हल्द्वानी, धारचूला व पिथौरागढ़ में हेली सेवाओं का संचालन किया जाएगा. देहरादून से डायरेक्ट केदार वैली के लिए भी सेवा शुरू की जाएगी. इसे लेकर प्रदेश व केंद्र सरकार के अधिकारियों की बैठक भी हुई थी.

हेली कंपनी अभी तय नहीं

सूबे में इंटरकनेक्टिविटी के लिए हेली सेवाएं इसी साल शुरू होने की संभावना है. हालांकि, अभी तक यह तय नहीं हुआ है कि कौन सी हेली कंपनी ये सेवाएं मुहैया कराएगी. बताया जा रहा है बिडिंग डॉक्यूमेंट खुलने के बाद ही इस विषय में अंतिम फैसला लिया जाएगा.