- चार डॉग स्क्वॉयड की टीम लगातार एयरपोर्ट पर है तैनात

- प्लेन के अंदर और बाहर की चौकसी बढ़ाई गई

- 100 डायल पर फोन कर एयरपोर्ट उड़ाने की दी थी धमकी

- एयरपोर्ट के चारों ओर दर्जनों सीआईएसएफ कर्मी तैनात

patna@inext.co.in

PATNA: एक दिन पहले पटना पुलिस को क्00 नंबर पर एयरपोर्ट उड़ाने की धमकी मिली. इसके बाद देर रात तक एयरपोर्ट के विभिन्न जगहों की तलाशी ली गई. पुलिस की जांच अभियान पूरी होने के बाद सिक्योरिटी में तैनात सीआईएसएफ की टीम लगातार मॉनिटरिंग करती रही. गुरुवार की सुबह से ही सीआईएसएफ की टीम तैनात हैं. अंदर की सिक्योरिटी जांच के बाद टीम बाहर से अंदर आने वालों और कैंपस के गाडि़यों पर खासी नजर रख रही है. सीआईएसएफ के सीनियर ऑफिसर की मानें तो हर घंटे जांच की जा रही है. जिम्मी, नैना, डॉलर और आस्कर चारों डॉग स्क्वॉयड की टीमों में से दो अंदर और दो बाहर की एक्टिविटी पर नजर रख रही है. खासकर पार्किंग एरिया में हर घंटे शिफ्ट वाइज जांच की जा रही है. ऑफिसर ने बताया कि एयरपोर्ट के अंदर और बाहर की हर एक्टिविटी के साथ-साथ चारों ओर खास नजर रखी गयी है. सीआईएसएफ के जवान पूरी मुस्तैदी के साथ हर टॉवर से नजर रख रहे हैं.

आसान नहीं है अंदर का रास्ता

एयरपोर्ट के दोनों मेन गेट के एंट्री और एक्जिट पर भी पटना पुलिस की मुश्तैदी के साथ-साथ सीआईएसएफ की टीम को लगाया गया है. इसके अलावा चार लेवल पर चेकिंग अभियान चल रहा है. पैसेंजर के साथ-साथ कारगो में सामान की जांच भी सीनियर ऑफिसर की निगरानी में की जा रही है.

नए साल में दो बार मिली धमकी

इस साल दो बार पटना एयरपोर्ट पर हाई अलर्ट घोषित किया गया. एक आतंकी हमला को लेकर तो दूसरी बार पटना पुलिस की क्00 डायल वाली नंबर पर धमकी मिलने पर, जिसे सीरियस लेते हुए सीआईएसएफ की टीम ने बाउंड्री के किनारे से झांकने वाले रास्ते को भी ब्लॉक कर दिया है. फुलवारी एरिया की बाउंड्री को भी ऊपर कर दिया गया है, ताकि बाहरी किसी दूसरे तरीके से अंदर प्रवेश न कर पाए.

कारगो में मिला था बंदूक व कारतूस

जानकारी हो कि दो महीने पहले पटना एयरपोर्ट के कारगो में एक लिफाफा में बंदूक और कारतूस मिला था, जिसे बाहर भेजा जा रहा था. यह पोस्टल ऑर्डर के जरिए आया था. पटना एयरपोर्ट पर जांच में पकड़ में नहीं आने पर खतरा हो सकता था, इसलिए कारगो पर सीआईएसएफ की खासी नजर है.