हाई कोर्ट के प्रोग्राम में उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने कहा

एएमए सभागार में हुए समारोह में एनेक्सी भवन का लोकार्पण

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: त्वरित, सहज और सस्ता न्याय दिलाने में आधारभूत सुविधाओं और संसाधनों की अहम भूमिका होती है. रूल आफ लॉ भारतीय संविधान की आत्मा है. ये बातें शनिवार को इलाहाबाद के दौरे पर आये उप राष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने कही. वह इलाहाबाद हाईकोर्ट में नवनिर्मित एनेक्सी भवन का लोकार्पण करने के बाद समारोह को सम्बोधित कर रहे थे.

ग्राम न्यायालय की स्थापना पर बल

उप राष्ट्रपति ने सरल न्याय के लिए ग्राम न्यायालय की स्थापना पर बल दिया. कहा कि, न्यायालयों और सरकारी कामों में मातृभाषा को बढ़ावा दिया जाना चाहिए. विचारों और भावों को व्यक्त करने की मातृभाषा सशक्त माध्यम होती है. न्यायालयों में रिक्त पदों को भरने पर बल देते हुए उन्होंने कहा कि मुकदमों के त्वरित निस्तारण एवं लंबित मामलों के निस्तारण में लोक, ग्राम और फास्ट ट्रैक कोर्ट महत्वपूर्ण माध्यम हैं. उन्होंने साइबर अपराध के बारे में भी चर्चा की. न्यूज लेटर वैल्यूम टू एवं न्यायालय से प्रकाशित स्मारिका टू का विमोचन भी उन्होंने किया.

याद की गई महान विभूतियां

उन्होंने हाईकोर्ट के गौरवशाली इतिहास की सराहना की और गौरव को बढ़ाने में अहम योगदान देने वाली महान विभूतियों को भी याद किया. उप राष्ट्रपति ने महामना मदन मोहन मालवीय, जवाहर लाल नेहरू, केएन काटजू, गोपाल स्वरूप पाठक, तेज बहादुर सप्रू, आरएस पाठक, कन्हैयालाल मिश्र, बीएन खरे आदि विभूतियों पर चर्चा की. कहा कि नवनिर्मित एनेक्सी भवन के उदघाटन पर उन्होंने प्रसन्नता हो रही है. राज्यपाल राम नाईक ने कहा कि एनेक्सी भवन से लोगों को सहत व त्वरित न्याय मिलने में और सहायता मिलेगी. उन्होंने हाईकोर्ट इलाहाबाद के गौरवशाली इतिहास को बयां किया

अंतिम व्यक्ति को न्याय दिलाना प्रयास

सीएम योगी आदित्यनाथ ने प्रयागराज की धरती पर उप राष्ट्रपति के आगमन पर प्रसन्नता जताई. कहा कि रूल आफ ला कल्याणकारी राज्य का हिस्सा है. आम जन को न्याय सुगमता व सहजता से मिले इसके प्रयास सरकार कर रही है. गरीब, वंचित, शोषित एवं अंतिम पायदान पर खड़े व्यक्ति को सरल व सस्ता न्याय दिलाने में सरकार प्रत्यनशील है. मौके पर सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस अशोक भूषण, जस्टिस विनीत सरन, पंजाब एवं हरियाणा हाईकोर्ट के जस्टिस कृष्ण मुरारी ने अपने विचार व्यक्त किए. उप मुख्यमंत्री केशवप्रसाद मौर्य, विधि मंत्री बृजेश पाठक, स्वास्थ्य मंत्री सिद्धार्थनाथ सिंह, स्टाम्प पंजीयन एवं नागरिक उड्डयन मंत्री नंद गोपाल गुप्ता नंदी सहित तमाम गणमान्य नागरिक उपस्थित रहे.

एनेक्सी भवन की खासियत

05

साल पहले शुरू हुआ था निर्माण कार्य

03

मंजिल की है पूरी बिल्डिंग

30

चैम्बर होंगे जजों के पहली मंजिल पर

30

कोर्टे फ्‌र्स्ट फ्लोर पर स्थापित होंगी

20000

वर्ग फीट का हाल टॉप पर होगा. जिसका उपयोग रिकार्ड रूम की तरह होगा

एनेक्सी भवन रिकार्ड समय में निर्मित हुआ है. इससे लोगों न्याय मिलने में तेजी आएगी.

दिलीप बाबा साहब भोसले

चीफ जस्टिस, हाई कोर्ट