-225 टेनरियों के बिजली कनेक्शन काटने के लिए पहुंची थीं टीमें

-5 टीमों को लेकर लोगों ने किया बवाल, हाईवे जाम, पथराव

-60 अज्ञात लोगों के खिलाफ पुलिस ने दर्ज की एफआईआर

-2 बच्चे बेहोश हुए बेहोश, कई की हालत हो गई थी खराब

-5 घंटे से ज्यादा समय तक कानपुर-लखनऊ हाईवे हुआ जाम

KANPUR:

टेनरियों की बिजली काटने के मामले को लेकर गुरुवार को शहर का अमन-चैन बिगाड़ने की साजिश रची गई। सुबह 10 बजे जब लोग घरों से निकलकर अपने-अपने काम के लिए जा रहे थे। तभी जाजमऊ में अचानक सैकड़ों लोगों की भीड़ ने हाईवे पर उतरकर जाम लगा दिया। इसके बाद करीब पांच घंटे तक हाईवे अराजकता की बेडि़यों में जकड़ा रहा। ट्रकों से लेकर रोडवेज बसें, एंबुलेंस और सैकड़ों प्राइवेट वाहन जाम में फंस गए। लोगों को समझाने पहुंची पुलिस के हांथ-पांव भी फूल गए। मौका देखकर अराजकतत्वों ने पत्थरबाजी शुरू कर दी। इसके बाद तो घंटों तक हाईवे पर खौफ छाया रहा। छोटे-छोटे बच्चों और महिलाओं सहित हाइवे फंसे सैकड़ों लोग भीषण गर्मी में परेशान रहे। बवाल बढ़ता देख एक दर्जन से अधिक थानों का फोर्स बुलाना पड़ा। बवालियों ने दर्जनों वाहनों के शीशे तोड़ डाले। आखिर पुलिस को भी लाठी चटकानी पड़ी। इस दौरान राजनीति चमकाने के लिए रहनहुमा बनकर कई जनप्रतिनिधि भी पहुंच गए।

--------------

टेनरी बंदी लागू है। उ.प्र। पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड ने टेनरी के बिजली कनेक्शन काटने के आदेश दिए थे। जिसके बाद कार्रवाई के लिए 5 टीमें भेजी गई थी। फिलहाल कार्रवाई रोक दी गई है। रमजान के बाद कार्रवाई शुरू की जाएगी।

-विजय विश्वास पंत, डीएम।

-------

60 अज्ञात लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है। सरकारी कार्य में बाधा उत्पन्न करना, पथराव सहित अन्य धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है। बवाली लोगों को चिन्हित किया जा रहा है।

-अनंत देव, एसएसपी।