नौकरी लगने से पहले हुई मौत
हिमाचल प्रदेश के जिला सिरमौर में एक ऐसा मामला सामने आया। जिसने भी सुना उसका दिल पसीज गया। सिरमौर के संगड़ाह में रहने वाले 26 साल के पंकज की किस्‍मत इतनी बदनसीब होगी, किसी ने सोचा नहीं था। सरकारी नौकरी के लिए तरसता रहे पंकज को जब नौकरी मिली तो भगवान ने उसकी जिंदगी ही छिन ली। रविवार को पंकज अपने चाचा के साथ बंदरों की रखवाली करने जा रहा था लेकिन उसे क्‍या पता था कि मौत वहां इंतजार कर रही है। रास्‍ते में उसके चाचा का पैर फिसल गया और उनके हाथ रखी बंदूक चल गई और गोली सीधे पंकज को लगी। जिसके बाद उसकी मौत हो गई।

कोई उल्‍टी से तो कोई मरी चींटियों से करता है पेंटिंग, ऐसे ही हैं दुनिया के ये 9 सनकी पेंटर

परीक्षा में पास लेकिन जिंदगी से गया हार

पंकज की मौत से पूरा परिवार गम में डूब गया। सबसे ज्‍यादा तकलीफ तो तब हुई जब हिमाचल प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा सहायक प्रोफेसर पद का रिजल्‍ट घोषित किया गया। इस सूची में पंकज का नाम भी शामिल था जिसके बाद पंकज ने भी सहायक प्रोफैसर बनना था। पंकज के घरवालों ने कभी नहीं सोचा था कि उनके बेटे की सरकारी नौकरी तो लगेगी लेकिन वह जिंदा नहीं रह पाएगा। क्षेत्रवासियों से प्राप्त जानकारी के अनुसार पंकज बचपन से ही पढ़ाई में होशियार था और उसने भूगोल विषय में पढ़ाई करने के बाद नेट का एग्‍जॉम क्‍वॉलीफाई कर लिया था। जिसके बाद उसने असिस्‍टेंट प्रोफेसर की परीक्षा दी थी, जिसमें वह उतीर्ण हो गया।
जब महिला ने दिया 11 बेटों को जन्‍म

Weird News inextlive from Odd News Desk

Weird News inextlive from Odd News Desk