कानपुर। आज 14 सितंबर को हिंदी दिवस मनाया जा रहा है। राजभाषा की अधिकारिक वेबसाइट के मुताबिक इस दिन की शुरुआत आजादी के बाद भारत के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू ने की थी।

संविधान के साथ-साथ राजभाषा नीति भी लागू हुर्इ

14 सितंबर, 1949 में भारत की संविधान सभा ने हिंदी को आधिकारिक भाषा के रूप में अपनाया था। इसके बाद हिंदी दिवस भी मनाया जाने लगा।भारत की राजभाषा हिंदी और लिपि देवनागरी है। 26 जनवरी, 1950 को भारतीय संविधान लागू होने के साथ-साथ राजभाषा नीति भी लागू हुर्इ थी।

1965 में भारत की एक आधिकारिक भाषा बन गई
हिंदी 1965 में भारत में एक आधिकारिक भाषा बन गई थी। राज्य स्तर पर हिंदी बिहार, छत्तीसगढ़, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, झारखंड, मध्य प्रदेश, राजस्थान, उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड में बोली जाती है। मिड डे की एक रिपोर्ट के अनुसार, दुनिया भर में करीब 75 करोड़ लोग हिंदी भाषा बोलते हैं।

दुनिया की चौथी सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा
हिंदी की लोकप्रियता का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि आज हिंदी दुनिया की चौथी सबसे ज्यादा बोली जाने वाली भाषा बन चुकी है। हिंदी का नाम फारसी शब्द हिंद से निकला है। इसका अर्थ  'सिंधु नदी की भूमि' है। सीखने या पढ़ने के लिए सबसे आसान भाषाओं में मानी जाती है।

जब 7 देशों के सिंगर्स ने गाया हिंदी गाना 'सिर्फ तुम ही हो'

न कभी कम हुआ है, न कभी कम होगा हिंदी का गौरव

National News inextlive from India News Desk