- मैग्जीन घाट के पास रहता था, मछली मारने की रंजिश में हुई हत्या

- रात को घर के बाहर सो रहा था, शुक्लागंज के चार युवक उठा ले गए थे

kanpur@inext.co.in

KANPUR : कोहना में सोमवार रात हिस्ट्रीशीटर रविशंकर उर्फ पप्पू गुडि़या की हत्या कर दी गई. उसका शव सुबह मैग्जीन घाट पर गंगा के किनारे पड़ा मिला. परिजनों ने शुक्लागंज के चार युवकों पर हत्या का आरोप लगाया है. पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर आरोपियों की तलाश कर रही है.


गोताखोरों से करता था वसूली

मैग्जीन घाट निवासी पप्पू गुडि़या पप्पू (45) गंगा रेती में खेती करने के साथ ही गंगा में मछली मारने वाले गोताखोरों से वसूली करता था. वह तीन भाइयों में दूसरे नंबर का था. उसके परिवार में पत्नी निशा और दो बेटियां गुनगुन व परी है. वह किसी ओर को मैग्जीन घाट में मछली मारने नहीं देता था. इससे उसकी कई लोगों से दुश्मनी चल रही थी. वह रात को खाना खाने के बाद घर के बाहर सो रहा था. आरोप है कि तभी शुक्लागंज निवासी कल्लू, वसी, अफसर और जमालू उसे उठाकर गंगा के किनारे ले गए. पप्पू की चारों से मछली मारने को लेकर रंजिश चल रही थी. चारों ने किसी भारी हथियार से वार कर उसकी हत्या कर दी. इसके बाद वे शव फेंककर भाग गए.


कोमा में जाने के बाद मौत

सुबह उसका शव मिलने से हड़कंप मच गया. परिजनों ने हंगामा कर हत्यारोपियों की गिरफ्तारी की मांग की. इंस्पेक्टर, सीओ और एसपी वेस्ट ने वहां पहुंच कर परिजनों को शांत कराया. इसके बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा जा सका. पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक हत्यारों ने पप्पू के सिर पर किसी भारी हथियार से वार किया है. उसके सिर पर तीन चोट के निशान मिले है. इसके अलावा उसकी बांये कलाई टूटी है.


30 से 35 मुकदमे दर्ज

पप्पू गुडि़या बेहद दबंग प्रवृत्ति का था. उसके खिलाफ कोहना, ग्वालटोली और शुक्लागंज थाने से 30 से 35 मुकदमे दर्ज है. पप्पू की जाति गुडि़या है. इसी वजह से लोग इसे पप्पू गुडि़या कहते थे. असली नाम बहुत कम लोग जानते थे. पप्पू गुडि़या ने दो दशक पहले जिगरी दोस्त पप्पू मैडम के साथ जरायम की दुनिया में कदम रखा था. तब गंगा बैराज नहीं बना था. तब पप्पू गुडि़या ने साथी पप्पू मैडम के साथ गैंग बनाया था. जो गंगा कटरी में खेती करने वाले ग्रामीणों से वसूली करता था. इसके अलावा 1995 में पप्पू का बालू खनन को लेकर तत्कालीन एमएलसी से झगड़ा हो गया था. करीब एक दशक तक दोनों ने कटरी में राज किया.


लाश काटकर गंगा में बहा दी थी

पप्पू गुडि़या और पप्पू मैडम के बीच बाद में विवाद हो गया. कटरी निवासी ग्रामीणों के मुताबिक पप्पू गुडि़या की किसी महिला रिश्तेदार और पप्पू मैडम के बीच प्रेम संबंध हो गया था. इसका पता चलने पर पप्पू गुडि़या ने ही पप्पू मैडम को मार दिया. ग्रामीणों के मुताबिक पप्पू गुडि़या ने पप्पू मैडम की हत्या कर शव के टुकड़े कर गंगा में बहा दिया था.