110 वार्ड नगर निगम क्षेत्र में

8 जोन में बंटा है नगर निगम

5 लाख 40 हजार टैक्स पेयर्स

3 लाख लोग ही जमा करते टैक्स

- समय से टैक्स जमा करने वालों को निगम देगा अतिरिक्त सुविधा

- जोनवार बन रही ईमानदार टैक्स पेयर्स की लिस्ट, हर महीने पूछी जाएगी प्रॉब्लम

abhishekmishra@inext.co.in

LUCKNOW: अगर आप हर साल समय से हाउस टैक्स जमा करते हैं तो जल्द ही निगम की टीम आपके घर आएगी और पूछेगी कि आपकी क्या मदद की जा सकती है। अगर आपकी ओर से निगम से जुड़ी कोई समस्या टीम से शेयर की जाती है तो टीम की ओर से तत्काल उसका निस्तारण कराया जाएगा। जिससे आपको खासी राहत मिलेगी।

ईमानदार टैक्स पेयर्स पर फोकस

नगर निगम की ओर से शहर के ऐसे भवन स्वामियों पर फोकस किया जा रहा है, जो हर साल निर्धारित डेट के अंदर ही अपना टैक्स जमा कर देते हैं जबकि कई लोग ऐसे हैं, जो बार-बार नोटिस दिए जाने के बाद भी टैक्स जमा नहीं करते हैं। जिसकी वजह से निगम को राजस्व संबंधी नुकसान होता है। इस वजह से निगम की ओर से ईमानदार टैक्स पेयर्स पर विशेष ध्यान देने की तैयारी की गई है।

अंतिम डेट से दो तीन दिन पहले

निगम की ओर से तैयार की जा रही योजना से साफ है कि पहले तो ईमानदार टैक्स पेयर्स की लिस्ट बनवाई जाएगी। लिस्ट को तैयार करने से पहले यह देखा जाएगा कि कितने ऐसे भवन स्वामी हैं, जिन्होंने हाउस टैक्स की रसीद मिलने की कितनी समयावधि के बाद टैक्स जमा करा दिया। इस लिस्ट में उन सभी टैक्स पेयर्स को शामिल किया जाएगा, जिन्होंने टैक्स जमा करने की अंतिम डेट से दो से तीन पहले ही टैक्स जमा करा दिया हो।

जोनवार बनेगी लिस्ट

ईमानदार टैक्स पेयर्स को ढूंढने के लिए आठों जोन में अलग से लिस्ट बनाई जाएगी। इसके बाद जोनवार टीमें बनाकर ईमानदार टैक्स पेयर्स के घर भेजी जाएंगी। ये टीमें टैक्स पेयर्स के घर जाकर उनसे निगम से जुड़ी समस्याओं के बारे में पूछेगी। इन समस्याओं में मुख्य रूप से सफाई न होना, घर से कूड़ा न उठना शामिल होगा। इसके साथ ही अगर निगम से जुड़ी कोई अन्य समस्या भी है तो उसे दूर करने का प्रयास किया जाएगा।

दूसरे भी हों प्रेरित

निगम प्रशासन की ओर से इस कदम को उठाने की एक वजह यह भी है कि जो लोग समय से टैक्स जमा नहीं करते हैं, वे भी समय से टैक्स जमा करें। जब ईमानदार टैक्स पेयर्स के घर निगम की टीम जाकर उनकी समस्या पूछेगी तो जाहिर है टैक्स न जमा करने वाले भी इस तरफ ध्यान देंगे।

ओटीएस के बाद असर

हाल में ही ओटीएस स्कीम के बाद टैक्स जमा करने वालों की संख्या में खासा इजाफा हुआ है। टैक्स जमा होने से निगम के कोष में खासी वृद्धि हुई है। निगम प्रशासन को उम्मीद है कि इस कदम को उठाने से स्कीम समाप्त होने के बाद भी लोग समय से टैक्स जमा करेंगे।

वर्जन

जो लोग समय से हाउस टैक्स जमा करते हैं, उनको कोई समस्या न हो, यह देखना हमारी जिम्मेदारी है। इसके लिए ही यह कदम उठाया जा रहा है।

डॉ। इंद्रमणि त्रिपाठी, नगर आयुक्त