JAMSHEDPUR: बिष्टुपुर थाने की पुलिस टीम ने चोरी की कार और पिस्तौल के साथ साकची आम बागान स्थित होटल सैफरॉन के मालिक खालिद नइम को गिरफ्तार किया है. उससे मिली जानकारी के बाद मानगो से 24 अप्रैल को गायब हुई बोलेरो को रांची के एक गैराज से पुलिस ने बरामद किया है. खालिद पहले भी चोरी की चार पहिया और भारी वाहनों की कटिंग कर बेचने के मामले में जेल जा चुका है. उसके खिलाफ बिष्टुपुर, एमजीएम और साकची थाना में भी मामला दर्ज है.

सिटी एसपी प्रभात कुमार ने बताया कि दो सितंबर की रात जुबिली पार्क के पीछे मैरीन ड्राइव से खालिद नइम को कार के साथ गिरफ्तार किया गया. कार से पिस्तौल और एक कारतूस बरामद किया गया. पूछताछ में पता चला कि कार भी चोरी की है. एसपी ने बताया कि शहर के बिष्टुपुर, साकची, मानगो थाना क्षेत्र, सरायकेला-खरसावां जिले के आरआइटी, चांडिल, बिहार के गया जिले के वजीरगंज थाना और ओडिशा के संबलपुर इलाके से चार पहिया और भारी वाहनों को चोरी कराकर वह जमशेदपुर में वाहनों की कटिंग कराता था. वाहन के हर पा‌र्ट्स को अलग-अलग कर बेच देता था. इसकी सूचना पुलिस को मिली थी. सीसीआर डीएसपी सुधीर कुमार के नेतृत्व में बिष्टुपुर इंस्पेक्टर श्रीनिवास, एमजीएम थाना के इंस्पेक्टर अरविंद कुमार समेत अन्य पुलिस अधिकारियों ने छापेमारी कर खालिद नइम को गिरफ्तार किया. कई मामलों में वह वांटेड है.

गया में ट्रक लूट में जा चुका है जेल

बिहार के गया जिले के वजीरगंज की पुलिस ने खालिद को 2016 में दो ट्रक की लूट मामले में गिरफ्तार कर जेल भेजा था. उसकी तलाश चांडिल पुलिस को भी थी.

बरामद इंडिगो कार गोड्डा से खरीदा

खालिद ने गिरफ्तारी के दौरान पुलिस को बताया कि इंडिगो वाहन उसने सिमडेगा से खरीदा है. कागजात भी हैं. जब पुलिस ने कार की जांच कराई तो पता चला कि कार का इंजन और चेसिस नंबर अलग-अलग है. बाद में उसने पुलिस ने बताया कार गोड्डा से खरीदी गई है. कागजात नहीं हैं.

हाई-वे में वाहन कटिंग का करता है धंधा

बिष्टुपुर थाना की पुलिस को पूछताछ में खालिद ने बताया कि एमजीएम थाना क्षेत्र के एनएच-33 पर बालीगुमा के पास वह गोदाम में कटिंग का धंधा वह करता है. साकची पुलिस ने उसे इस मामले में गिरफ्तार कर जेल भेजा था.