kanpur@inext.co.in
KANPUR (24 APRIL): कई बार हम सोशल मीडिया पर उन फेक न्यूज को भी सही मान लेते हैं, जो कई तरह के भ्रम पैदा करते हैं। सोशल मीडिया पर सर्कुलेट होने वाली हर न्यूज सही हो यह जरूरी नहीं है। इसके लिए जरूरी है कि सोशल मीडिया पर एक्टिव रहने वाले लोग अपने कॉमन सेंस का इस्तेमाल करें। यह बात वेडनेसडे को स्टेटस क्लब में दैनिक जागरण और विश्वास न्यूज की ओर से आयोजित प्रेस कांफ्रेंस के दौरान न्यूज एडिटर रमा सोलंकी ने कहीं। उन्होंने फेक न्यूज को चेक करने के टिप्स भी दिए।

लगातार कर रहे अवेयर
एक्जीक्यूटिव पल्लवी मिश्रा ने कहा विश्वास न्यूज, दैनिक जागरण के साथ मिल कर इस कैंपेन का पूरा कर रहा है। 3 राज्यों के 9 शहरों में शुरू किए गए इस कैंपेन में सबसे पहले स्टूडेंट्स को अवेयर करने का काम किया जा रहा है। स्टूडेंट्स को फेक न्यूज की रियेलिटी चेक करने की तकनीक के बारे में बताया जा रहा है। उन्होंने जानकारी दी कि किसी भी न्यूज की सच्चाई चेक करने के लिए हम गूगल का यूज कर सकते हैं।

ऑथेंटिक वेबसाइट का लें सहारा
उन्होंने बताया कि अगर किसी न्यूज या पिक को लेकर कोई कनफ्यूजन हो तो किसी ऑथेंटिक वेबसाइट का सहारा लेना चाहिए। इसी तरह गूगल रिवर्स इमेज सेक्शन से फेक फोटो और वीडियो की ऑथेंटिसिटी चेक की जा सकती है। वहीं, उन्होंने स्पेशल ऑपरेशन चला कर रियल न्यूज और फेक न्यूज के क्रियटर को आमने सामने बैठा कर कई तरह की रिसर्च भी करेंगे।