JAMSHEDPUR: बुधवार को जब पुरा शहर आजादी के जश्न में सराबोर था. वहीं शहर के कुछ युवा हुड़दंग करते दिखे. जिससे कई जगह सड़क दुघर्टनाएं हुई. गाडि़यों की टकराव से साकची वी टू के पास दो बाइक सवार आपस में भिड़ जिससे दोनों को चोट आई, तथा डीसी ऑफिस के पास एक बाइक सवार ने कार को टक्कर मार दी. इसके साथ कई शहर में छोटी-मोटी सड़क दुघर्टनाएं हुई. सभी एक्सीडेंट रफ ड्राइविंग के कारण हुए. कई यूवा सड़कों पर स्टंट करते है दिखे. कई जगहों पर प्रशासन की मुस्तैदी दिखी तो कई जगहों पर हुड़दंगियों को रोकने वाला कोई नहीं दिखा.

पुलिस ने दौड़ा-दौड़ाकर पीटा

हूड़दंग करनेवाले युवाओं का जुबिली पार्क में जमावड़ा रहा. वहां उन्होंने बाइक स्टंट, शोर-सराबा मचाया. इस दौरान वहां तैनात टाइगर मोबाइल के जवानों को हुड़दंगियों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा. हुड़दंगियों की वजह से वहां घूमने आए बेकसूर युवाओं पर भी पुलिस का ढंडा चला. इसके बाद कई युवा बिना मतलब पीटे जाने से पुलिस के साथ उलझते दिखे.

सलमान ने बचाई अली की जान

स्वतंत्रता दिवस के मौके पर रियल पुलिसिंग भी देखने को को मिली. जुबिली पार्क सड़क के पास आजाद बस्ती निवासी अली अहमद की बाइक की टक्कर सामने की ओर से आती बाइक से हुई. वहां मौजूद बिष्टुपुर टाइगर मोबाइल के कांस्टेबल सलमान अख्तर ने घायल को तुरंत उठाकर बाइक पर ही टीएमएच ले गए, जहां अली का इलाज हुआ जहां उसे आठ टाके लगे. कांस्टेबल सलमान की तत्परता के कारण अली खतरे बाहर है. सलमान की तत्परता को देख पुलिस विभाग ने तारिफ की तथा झारखंड पुलिस के डीजीपी डीके पांडेय ने 10 हजार रुपए देकर उन्हें सम्मानित किया.