कानपुर। देश की काफी चर्चित आईएएस अधिकारी बी चंद्रकला सोशल मीडया पर काफी एक्टिव रहती हैं। सोशल मीडिया पर इनकी एक छवि तेज तर्रार आैर इमानदार अफसर के रूप में बनी है। शायद आज इसी वजह से सोशल मीडिया पर इनकी अच्छी फैन फाॅलोइंग हैं। फेसबुक पर करीब 85,97,448 आैर ट्विटर पर 8,94,900 फॉलोवर हैं।  इनकी हर एक पोस्ट पर कुछ ही मिनट पर कमेंट् की बाैछार हो जाती है। आईएएस अधिकारी बी चंद्रकला सोशल मीडया का कनेक्शन कितना गहरा है इसका अंदाजा आप खुद ही लगा सकते हैं।

ias चंद्रकला ने cbi छापे को चुनावी छापा बताते हुए शेयर की ये कविता,रे रंगरेज! तू रंग दे मुझको

छापेमारी के बाद भी आईएएस चंद्रकला सोशल मीडिया पर एक्टिव
हाल ही में बीती 5 जनवरी को उनके घर सीबीआई ने छापेमारी की फिर भी वह सोशल मीडिया पर बनी है। कल उन्होंने अपने Linkedin प्रोफोइल से एक कविता रे रंगरेज !  तू रंग  दे मुझको...शेयर करते हुए हर परिस्थिति का सामना करने का भाव व्यक्त किया। साथ ही उन्होंने लिखा कि चुनावी छापा तो पड़ता रहेगा, लेकिन जीवन के रंग को क्यों फीका किया जाए दोस्तों। आप सब से गुजारिश है कि मुसीबतें  कैसी भी हो, जीवन की डोर को बेरंग ना छोड़ें। इस कविता को लेकर जा रहा है कि यह कविता खुद आईएएस बी चंद्रकला की लिखी है।

ias चंद्रकला ने cbi छापे को चुनावी छापा बताते हुए शेयर की ये कविता,रे रंगरेज! तू रंग दे मुझको

पूछताछ में आईएएस चंद्रकला ने नेताओं और अफसरों के नाम उगले
बता दें कि आईएएस अधिकारी बी चंद्रकला पर सीबीआई नए साल से कानून का शिकंजा कस रही थी। हमीरपुर में अंजाम दिए गये खनन घोटाले में सीबीआई ने तत्कालीन डीएम और अक्सर चर्चा में रहने वाली बी चंद्रकला समेत 11 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की। इसके बाद बीती 5 जनवरी दिन शनिवार को सीबीआर्इ ने यूपी की राजधानी समेत सात शहरों में ताबड़तोड़ छापेमारी की। सीबीआर्इ ने आईएएस चंद्रकला के घर पर छापेमारी की आैर उनसे पूछताछ भी की। इसमें उन्होंने कर्इ सफेशपोश नेताओं और अफसरों के नाम उगले हैं।

अवैध खनन घोटाला : जल्द खुलेंगे चंद्रकला के लॉकर, आठ साल की आईपीआर की होगी पड़ताल

तो क्या इसलिए नहीं लगी IAS चंद्रकला को CBI की भनक, 10 साल में एेसे बढ़ती चली गयी प्रापर्टी

National News inextlive from India News Desk