दुबई (एएफपी)। विश्व क्रिकेट की सबसे बड़ी संस्था आईसीसी दुनियाभर में हो रही टी-20 और टी-10 लीग पर नियंत्रण लगाने पर विचार कर रही है। अगले हफ्ते आईसीसी की बैठक होनी है जिसमें इस मुद्दे पर चर्चा होगी। आईसीसी के एक अधिकारी की मानें तो आईपीएल के प्रभाव में आने के बाद अन्य देशों ने भी इस तरह की टी-20 लीग शुरु कर दी है। जिसकी वजह से इंटरनेशनल मैच खासतौर से टेस्ट मैच काफी प्रभावित हो रहे हैं। यही नहीं अब तो टी-10 लीग शुरु हो गया है जोकि पिछले साल शारजाह में आयोजित हुआ था। आईसीसी का मानना है कि इस तरह के लीग टूर्नामेंट से अंतरराष्ट्रीय मैचों पर बहरा असर पड़ता है।
ipl सहित तमाम टी-20 लीग पर मंडराया खतरा,आईसीसी लेने जा रहा बड़ा फैसला
टूर्नामेंट पर लगाम लगाना होगा
आईसीसी के क्रिकेट महाप्रबंधक ज्योफ एलार्डिस की मानें तो 20 अक्टूबर को सिंगापुर में होने वाली बोर्ड की बैठक में इस बात पर चर्चा की जाएगी। एलार्डिस बताते हैं, 'इस मीटिंग में सबसे बड़ा मुद्दा लीग टूर्नामेंट पर लगाम लगाना होगा। इसके लिए नए नियम-कानून बनाने होंगे। यही नहीं खिलाड़ियों के इन लीग टूर्नामेंट में हिस्सा लेने पर भी विचार-विमर्श किया जाएगा।' हालांकि एलार्डिस मानते हैं कि इन लीग क्रिकेट टूर्नामेंटों में शिकंजा कसने से तमाम चीजें प्रभावित होंगी। यही नहीं भविष्य में होने वाले आईसीसी टूर्नामेंटों में मेजबान देश और आईसीसी दोनों को मिलकर काम करना होगा। ऐसे में बोर्ड इन सब बातों को ध्यान में रखकर फैसला करेगी।

टेस्ट क्रिकेट पर पड़ रहा असर
ज्योफ एलार्डिस आगे कहते हैं, 'टेस्ट क्रिकेट के बारे में सबसे अच्छी बात यह है कि कई खिलाड़ी ऐसे हैं जो टेस्ट क्रिकेट खेलना पसंद करते हैं। वहीं कुछ ऐसे भी हैं जो रेगुलर टेस्ट क्रिकेट का हिस्सा नहीं बन पाते क्योंकि वह लीग क्रिकेट का प्राथमिकता देते हैं। यह क्रिकेटर का खुद का फैसला होता है कि उसे किसे महत्व देना चाहिए।' वैसे एलार्डिस लीग टूर्नामेंट्स को उन देशेां के लिए बेहतर मानते हैं जहां क्रिकेट की अभी शुरुआत हुई है। वहां क्रिकेट का माहौल बनाने के लिए ऐसे लीग की जरूरत है।

महिला टेनिस खिलाड़ी से लंबा दिखने के लिए विराट कोहली चढ़े सीढ़ी पर, अब हो रही आलोचना

हैप्पी बर्थडे हार्दिक : मैगी खाकर जीने वाले पांड्या की तरह ये 5 करोड़पति क्रिकेटर भी थे बेहद गरीब

Cricket News inextlive from Cricket News Desk