- ग्रामीणों ने उठाई जांच की मांग

- दर्जनों गांवों के बच्चे पड़ चुके बीमार

CHAURI CHAURA: चौरीचौरा तहसील क्षेत्र में अवैध रूप व बिना लाइसेंस के दर्जनों आइसक्रीम फैक्ट्री व बर्फ फैक्ट्री चल रही हैं. ग्रामीणों का आरोप है कि स्वास्थ्य विभाग की मिलीभगत से ये खेल हो रहा है. वहीं इन फैक्ट्रियों में बनी आइसक्रीम खाने से तमाम बच्चे बीमार भी पड़ रहे हैं. स्थानीय लोगों ने शासन व प्रशासन से इन फैक्ट्रियों व उनके तैयार सामानों की जांच कर कार्रवाई की मांग की है.

लोगों में आक्रोश

प्रभारी चिकित्साधिकारी सरदार नगर डॉ. रामेश्वर मिश्रा ने बताया कि यहां बनी आइसक्रीम की जांच में पता चला है कि मिलावटी होने के साथ ही इनका पानी भी खराब होता है. चौरीचौरा तहसील क्षेत्र के सोनबरसा, सरदार नगर, फुटहवाइनार, चौरीचौरा, नई बाजार, मोतीराम अड्डा सहित तमाम गांव व चौराहों पर धड़ल्ले से ये कारोबार चल रहा है. बाबूराम, पन्ने लाल यादव, सोमनाथ मिश्रा, मनोज कुमार, रामजी, विश्वनाथ, अशोक दुबे, कृष्ण मोहन दुबे, पुजारी यादव, ओमप्रकाश, बजरंगी सहित अन्य लोगों ने अवैध फैक्ट्रियों पर अंकुश लगाने की मांग उठाई है.

क्या कर रहे अधिकारी

वहीं, जांच के लिए जिम्मेदार खाद्य विभाग व स्वास्थ्य विभाग भी लोगों के निशाने पर हैं. ग्रामीणों का यह भी कहना है कि इन फैक्ट्रियों की कभी जांच नहीं होती है इसलिए ये मनमानी कर रहे हैं. दूसरी तरफ लगातार बीमार हो रहे बच्चों का इलाज किसी तरह झोलाछाप डॉक्टरों के भरोसे चल रहा है.

वर्जन

इनका लाइसेंस भी बनता है और जांच भी होती है. क्षेत्र के अधिकारी समय-समय पर जांच कर नमूने भी लेते हैं. लोग सूचना दें, गलत फैक्ट्रियों पर जरूर कार्रवाई होगी.

- अनिल राय, मुख्य खाद्य सुरक्षा अधिकारी