ranchi@inext.co.in
RANCHI: पोषण माह की शुरुआत हो चुकी है. इस दौरान 15 साल से लेकर 49 वर्ष की रीप्रोडक्टिव ग्रुप की महिलाओं को आइएफए की टैबलेट खिलाई जाएगी. साथ ही उन्हें जागरूक करने के लिए कई कार्यक्रम भी आयोजित किए जाएंगे ताकि महिलाओं में होने वाली समस्याओं से उन्हें अवगत कराया जा सके. ये बातें सिविल सर्जन आफिस में आयोजित प्रेस कांफ्रेंस में हेल्थ डिपार्टमेंट के अधिकारियों ने कहीं. साथ ही तेरेसा हेंब्रम और मीना टोप्पो को टैबलेट खिलाकर अभियान की शुरुआत की गई. मौके पर डायरेक्टर हेल्थ सर्विसेज डॉ. जेपी सिंह ने कहा कि इस अभियान के तहत महिलाओं को एनीमिया से बचाने के लिए आइएफए की गोली खिलाई जाएगी. कांफ्रेंस में डीएस डॉ एके झा, कंसल्टेंट राजवीर, एसीएमओ डॉ नीलम चौधरी, डॉ शशि भूषण खलखो, डॉ मंजू प्रसाद समेत अन्य मौजूद थे.

किशोरियों व महिलाओं को टैबलेट
शिशु स्वास्थ्य कोषांग की डॉ दीपाली ने कहा कि आइएफए की टैबलेट नीले और लाल रंग में है. नीले रंग की टैबलेट किशोरियों को और लाल रंग की टैबलेट 15 से 49 वर्ष की महिलाओं के लिए है. सिविल सर्जन डॉ वीबी प्रसाद ने कहा कि निधि खरे के निर्देशानुसार कुपोषित महिलाओं को चिह्नित कर दवा खिलानी है. इसमें हर आंगनबाड़ी केंद्र स्तर पर, पीआरआई मेंबर्स, सखी मंडल की प्रतिनिधि, हेल्थ के वोलंटियर्स भाग लेंगे.