- री-ओपनिंग के साथ-साथ सिटी के दो अन्य कॉलेजों में भी खुलेंगे न्यू स्टडी सेंटर

GORAKHPUR: इग्नू से पढ़ाई करने वाले छात्रों के लिए खुशखबरी है. डीडीयूजीयू कैंपस स्थित इग्नू स्टडी सेंटर इसी सत्र से फिर खुलेगा. साथ ही सिटी के दो अन्य कॉलेजों में भी न्यू स्टडी सेंटर खोला जाएगा. इसके लिए वाराणसी रीजन के डॉयरेक्टर ने हरी झंडी दे दी है. इस सत्र से इन स्टडी सेंटर्स पर प्रवेश प्रक्रिया भी स्टार्ट हो जाएंगे.

2013 में बंद हुआ था स्टडी सेंटर

डीडीयूजीयू कैंपस में वर्षो से चल रहे इग्नू स्टडी सेंटर को तत्कालीन वीसी प्रो. पीसी त्रिवेदी के कार्यकाल में 2013 में बंद कर दिया गया था. डीडीयूजीयू इग्नू स्टडी सेंटर से करीब दो हजार स्टूडेंट्स पंजीकृत थे. ये सभी यूजी, पीजी समेत दर्जन भर से ऊपर प्रोफेशनल कोर्सेज की पढ़ाई करते थे. लेकिन पांच साल से बंद स्टडी सेंटर से स्टूडेंट्स को काफी दिक्कतें हो रही थी.

यूनिवर्सिटी के लैब पर प्रैक्टिकल

वाराणसी रीजन के डॉयेरक्टर डॉ. एएन त्रिपाठी ने बताया कि डीडीयूजीयू कैंपस में स्टडी सेंटर खोलने से पहले डॉ. विनोद कुमार ंिसह को इस सेंटर का को-आर्डिनेटर बनाया गया है. उन्होंने बताया कि यूजी, पीजी समेत प्रोफेशनल कोर्सेज की भरमार होगी, जो प्रैक्टिकल सब्जेक्ट्स होंगे. उसके लिए गोरखपुर यूनिवर्सिटी के लैब का इस्तेमाल इग्नू स्टूडेंट्स कर सकेंगे. इग्नू के स्टूडेंट्स को पढ़ाने के लिए टीचर्स को मानकों के अनुरूप भुगतान ि1कया जाएगा.

सीएस व नर्सिग की होगी पढ़ाई

उन्होंने बताया कि डीवीएनपीजी कॉलेज कैंपस में न्यू स्टडी सेंटर खोला जाएगा. इस सेंटर के लिए डॉ. राजशरण शाही को को-आर्डिनेटर बनाया गया है. डॉ. राजशरण शाही ने बताया कि डीवीएनपीजी इग्नू स्टडी सेंटर में पढ़ाई के लिए यूजी, पीजी, कंप्यूटर साइंस व नर्सिग इन डिप्लोमा की कोर्सेज की डिमांड की गई है. जल्द इन कोर्सेज का संचालन शुरू हो जाएगा. वहीं, डीएवी डिग्री कॉलेज में स्टडी सेंटर खोल जाएंगे. इसके लिए इग्नू की टीम ने सर्वे कर लिया है. डायरेक्टर डॉ. एएन त्रिपाठी ने प्रस्ताव बनाकर भेजने की बात कही है.

इन कोर्सेज का होगा संचालन

- यूजी (बीए, बीएससी, बीकॉम)

- डिप्लोमा प्रोग्राम

- सर्टिफिकेट प्रोग्राम

- मास्टर डिग्री प्रोग्राम

वर्जन..

डीडीयूजीयू कैंपस में फिर स्टडी सेंटर खोला जा रहा है. इस सेंटर्स से करीब दो हजार से ऊपर स्टूडेंट्स रजिस्टर्ड थे. यहां से मनचाहा कोर्स स्टूडेंट्स कर सकेंगे. वहीं दो और न्यू स्टडी सेंटर खोले जा रहे हैं. इन सेंटर्स पर प्रस्तावित कोर्सेज का संचालन किया जाएगा.

डॉ. एएन त्रिपाठी, डॉयरेक्टर, इग्नू वाराणसी रीजन