-शासन से आए आदेश के बाद चलाया जाएगा अभियान, 19 मई से चलेगा अभियान

kanpur@inext.co.in

KANPUR: शहर में मौजूद नहरों के ऊपर से अतिक्रमण हटाए जाने के लिए अब अभियान चलाया जाएगा. शासन से आए आदेश के बाद 19 मई से 13 जून तक अभियान चलाकर अतिक्रमण हटाया जाएगा. इसके लिए कार्ययोजना तैयार कर ली गई है. पनकी, गोविंद नगर, बर्रा और जूही थाना क्षेत्रों में नहरों के किनारे सबसे ज्यादा अवैध कब्जे हैं. नहरों के किनारे ही लोगों ने निर्माण कर लिया है और पूरी गंदगी नहरों में ही बहा देते हैं, ऐसे में नहरों का पानी भी तेजी से प्रदूषित हो रहा है. 3 मई को शासन में हुई बैठक में सिंचाई एवं जल संसाधन विभाग की जमीनों पर भूमाफियाओं और अवैध कब्जेदारों को मामला उठा था, जिसके बाद इसे हटाने के आदेश दिए गए थे. अवैध कब्जों में हजारों की संख्या में लोग रह रहे हैं. जमीनों को अवैध कब्जे से मुक्त कराने के लिए निचली गंगा नहर के अधिशासी अभियंता ने डीएम सुरेंद्र सिंह को पत्र लिखकर फोर्स की डिमांड की है.

इन स्थानों पर हटेंगे अतिक्रमण

-नौरैयाखेड़ा हेड से पाल ढाबे तक

-पाल ढाबे से झांसी रेलवे ग्राउंड तक.

-झांसी रेलवे क्रॉसिंग से सीटीआई पुल तक.

-सीटीआई पुल से स्वर्गाश्रम तक.

-स्वर्गाश्रम से सचान गेस्ट हाउस तक.

-सचान गेस्ट हाउस से नौबस्ता बाईपास तक.

-कल्याणपुर रोड से कालपी रोड तक.

-कालपी रोड से नौरैयाखेड़ा तक.

-पनकी पावर हाउस टैंपो स्टैंड से विद्या मंदिर स्कूल तक.

-स्कूल से इंडेन ऑयल फैक्ट्री तक.

-मिलेट्री कैंप चौकी से जूही से नेशनल धर्मकांटा तक.

-कल्याणपुर आईआईटी गेट से कल्याणपुर पनकी रोड तक.