54 घंटे में बनाया घर, जिसकी कीमत है नॉर्मल से 20 परसेंट कम
कानपुर।
फ्रांस में थ्री डी प्रिंटिंग टेक्नोलॉजी से जुड़ी एक एक्सपर्ट टीम ने 5 लोगों के परिवार के लिए एक मकान 3डी प्रिंटर से बनाकर खड़ा किया है। डेलीमेल की रिपोर्ट के मुताबिक इस 3डी प्रिंटर से यह पूरा मकान बनाने में सिर्फ 54 घंटे का वक्त लगा यानी करीब 2 दिन में 5 कमरों का इतना बड़ा मकान बनकर खड़ा हो गया। 3D प्रिंटिंग से इस घर को बनाने में सिर्फ समय की ही बचत नहीं हुई, बल्कि पैसों की भी बचत हुई है। यह घर 2 लाख 7 हजार डॉलर्स की लागत पर बना है यानि ट्रेडिशनल तरीके से बनाए गए ऐसे मकान से 20 परसेंट कम लागत आई है। इस मकान को बनाने में इस 3डी प्रिंटर को भले ही 54 घंटे लगे हो लेकिन इस टीम का दावा है कि इस सिस्टम में कुछ और इंप्रूवमेंट करके यह मकान सिर्फ 33 घंटों में बना कर तैयार किया जा सकेगा।
सिर्फ 54 घंटे में बना डाला 5 बेडरूम का फ्लैट,इस हाईटेक तकनीक से तो हो जाएगी बल्‍ले-बल्‍ले!

3D प्रिंटिंग से बनाया हाईटेक घर जिसे टैबलेट से कर सकते हैं कंट्रोल
BBC के मुताबिक इस एक्सपर्ट टीम ने उत्तर पश्चिमी फ्रांस के नांटेस सिटी में 1022 स्क्वायर फुट का एक मकान अपनी 3D प्रिंटिंग मशीन से बनवाया है। खास बात तो यह है कि इस मकान में 5 लोगों का एक परिवार बकायदा रहने वाला है और ऐसे मकान में रहने वाला वो दुनिया का पहला परिवार होगा। इस मकान में कुल 5 कमरे हैं जिनमें से चार बेडरूम और एक बाथरूम है, जिसमें फुल शावर सिस्टम लगा हुआ है। मकान में एक कमरे से दूसरे कमरे में जाने के लिए स्लाइडिंग दरवाजे और खिड़कियां लगी हैं। इनके अलावा इस घर में IoT सिस्टम लगा है, जो इस घर को स्‍मार्टहोम बनाता है। बता दें कि यह मकान जितने कम समय में बना है उतना ही ज्यादा यह हाईटेक भी है। यानी कि इस में रहने वाले लोग IoT सिस्टम की मदद से एक स्मार्टफोन या टैबलेट द्वारा अपने घर और कमरों के तापमान को आसानी से कम ज्‍यादा कर सकते हैं।
सिर्फ 54 घंटे में बना डाला 5 बेडरूम का फ्लैट,इस हाईटेक तकनीक से तो हो जाएगी बल्‍ले-बल्‍ले!

कम समय में बनेंगे फुल थर्मल इंसुलेटेड घर, जहां रहना होगा मजेदार
इस अनोखे घर के निर्माण को लेकर सिटी काउंसिल के हेड ऑफ टेक्नोलॉजी फ्रैंकी ने बीबीसी से कहा कि पिछले 2000 सालों से दुनिया भर में बिल्डिंग कंस्ट्रक्शन का प्रोसेस लगभग बिल्कुल नहीं बदला है लेकिन अब इस नई तकनीक से पूरा सिस्टम एकदम से चेंज हो जाएगा। यह 3D प्रिंटिंग टेक्नोलॉजी ना सिर्फ मकानों को बनाने का समय घटाएगी बल्कि मकानों की थर्मल इंसुलेशन भी बेहतर करेगी, जिससे मकानों में रहने की ऑपरेटिंग कॉस्ट पहले से कम हो जाएगी। फिलहाल वैज्ञानिकों की टीम ने इस मकान को बनाने में novel BatiPrint 3D प्रिंटिंग प्रोसेस का इस्तेमाल किया है जिसमें एक रोबोटिक आर्म पूरे मकान का ढांचा और घुमावदार दीवारें बना सकती है। इस तकनीक में 3D प्रिंटिंग मैटेरियल के तौर पर कीमती फोम या polyurethane नाम का इस्तेमाल किया गया है जो कि देखने में सेविंग क्रीम जैसा लगता है और फैल कर घर की दीवारों को आकार देता है। इस सिस्टम में पहले घर की दीवारों की दोनों बाहरी पर्तें बनाई जाती हैं। बाद में उनके बीच इस फोम की फिलिंग की जाती है ताकि यह घर पूरी तरह से थर्मल इंसुलेटेड हो जाए और बाहर की गर्मी घर के भीतर कम से कम आ पाए।

चीन का खुफिया सर्विंलांस सिस्‍टम जो हर एक इंसान का चेहरा पहचान कर करेगा उसकी जासूसी!

कार के बाद स्मार्टफोन के लिए भी आ गए एयरबैग, जो उसे टूटने नहीं देंगे

भविष्य बताने वाला कैमरा... जो चेहरा देखकर बता देगा, कौन बनेगा क्रिमिनल?

International News inextlive from World News Desk